PalampurPolitics

इंदु गोस्वामी की जुबां से छलका हार का दर्द

nn

पालमपुर में विस चुनाव हार चुकीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रत्याशी इंदु गोस्वामी की जुबां पर आखिर हार का दर्द ब्यां हो ही गया है। इसमें उन्हें इस बात का दर्द है कि वे कांग्रेस से नहीं, बल्कि अपनों से ही हारी हैं। इसका कारण उन्होंने संगठन में तालमेल न होने की बात भी कह दी है, जबकि हार का अंदरखाते क्या कारण रहा। यह भाजपा की बैठक में कार्यकर्ता अपनी जुबां से ब्यां करेंगे।

loading...

पहली बार विस चुनाव हार चुकी इंदु गोस्वामी ने भले ही हार के पीछे नाम किसी का नहीं लिया है। लेकिन, उन्होंने इसके लिए अपरोक्ष तौर पर जिम्मेवार पार्टी के संगठन में बैठे बड़े पदाधिकारियों को भी ठहराया है। यहां तक उन्होंने यह भी कह दिया कि जहां पर भाजपा प्रधान जीते हैं। वहां पर कांग्रेस को 500 से 600 तक लीड मिली। उन्होंने यह माना कि संगठन में बैठे पदाधिकारियों के बूथों पर ही लीड नहीं मिल पाई। इसका कारण यह रहा कि इन पदाधिकारियों ने उत्साह के साथ काम ही नहीं किया।

कहा कि बूथ रिपोर्ट से साफ है कि बड़े दिग्गजों के बूथों पर ही लीड नहीं मिली, जबकि उन्होंने कह दिया कि अब पालमपुर ही मेरी कर्मभूमि है और रहेगी। बीस हजार लोग उनके साथ हैं और वे अब आने वाले दिनों में उनके साथ खड़ा रहेंगी। उनका यह चुनाव बुटेल परिवार के साथ बिना संसाधनों के था, लेकिन उन्हें इस बात की खुशी है कि हर कार्यकर्ता ने मेहनत की। लेकिन, उन्हें अंदरखाते इस बात की टीस है कि सबने उत्साह के साथ काम किया होता तो, नतीजा कुछ और होता। कहा कि सरकार बनने के बाद पार्टी की बैठक बुलाई जाएगी। इसमें हार के कारणों का पता कार्यकर्ता देंगे।

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply