Fun Maza

इस स्कूल में पढ़ाई नहीं बल्कि पढ़ाया जाता है इश्क़वाला लव !

nn

स्कूल, कॉलेज या सब सुनकर कितना बोर होता है. न तो स्कूल जाने का मन करता है और न ही कॉलेज, लेकिन अब आपका मन स्कूल भी जान एक करेगा और कॉलेज भी. जी हाँ, क्योंकि अब दुनिया में पढ़ाई वाले नहीं बल्कि इश्क़वाला लव के लिए स्कूल खुलने लगे हैं. लगातार दो लोगों के बीच बढ़ते मनमुटाव और अंत में अलग होने के मामले ने एक देश को मजबूर कर दिया है ऐसे स्कूल खोलने की.  इस तरह के स्कूल में लोगों को पढ़ाई नहीं बल्कि रोमांस का चैप्टर पढ़ाया जाएगा, इश्क़ वाला लव.

loading...

ऐसे गाने तो बहुत से बने हैं कि कॉलेज में पढ़ाई नहीं बल्कि इश्क पढाया जाना चाहिए, लेकिन अभी तक किसी ने भी इस तरह के स्कूल नहीं खोले. पहली बार ये हुआ विदेश में. ऑस्ट्रिया के विएना में दुनिया का पहला सेक्स स्कूल खोला गया है. इस स्कूल का दावा है कि वह अपने छात्रों को बेहतर प्रेमी बनना सिखाएगा. जी हाँ  आप बेहतर पार्टनर बन सकते हैं और इश्क़वाला लव कर सकते है – ये इस स्कूल में सिखाया जाएगा.

ज़रा सोचिये जब इस तरह का स्कूल होगा तो उसमें कौन अपना दाखिला नहीं लेना चाहेगा. असल में अगर ये स्कूल इंडिया में हो तो हर लड़का यहाँ पढना चाहेगा और अपना सबकुछ बेचकर भी वो दाखिला लेगा.  हालांकि इस स्कूल में दाखिला लेने के लिए छात्रों को भारी कीमत चुकानी पड़ेगी. उनके मुताबिक यह दुनिया का पहला स्कूल होगा जहां छात्रों को बेहतर प्रेमी बनना सिखाया जाएगा. इस स्कूल में थ्योरी से ज्यादा प्रैक्टिकल पर ध्यान दिया जाएगा. यही तो आजकल के लड़के चाहते हैं.

बोरिंग सी किताब कौन पढना चाहता है. हर कोई ऐसी किताब पढ़ना चाहता है जिसमें मजेदार चैप्टर हों. अब जब इस स्कूल में बुक से ज्यादा प्रैक्टिकल पर ध्यान दिया जाएगा तो हर लड़का यहाँ दाखिला लेना चाहेगा. छात्र छात्राओं को एक ही हॉस्टल में रखा जाएगा ताकि वो अपना होमवर्क का अभ्यास कर सकें. इस स्कूल में यौन क्रिया का उपयुक्त आसन, प्रेम स्पर्श, शारीरिक विशेषताएं इन सभी का व्यवहारिक ज्ञान दिया जाएगा.

कोर्स खत्म करने के बाद स्टूडेंट्स को बाक़ायदा इश्क़वाला लव का सर्टीफ़िकेट भी दिए जाएंगे. अरे वाह क्या बात है. ये तो और भी बढ़िया है.  वियना के इस स्कूल में प्रत्येक छात्र को 1400 पौंड यानी 1 लाख 15 हजार चुकाने होंगे.

स्वीडन में जन्मी और इस सेक्स स्कूल की हेड मिस्ट्रेस यल्वा मारिया थॉम्पसन का कहना है कि कोई भी जिसकी उम्र 16 साल से ज्यादा है यहां भर्ती के लिए आवेदन दे सकता है. थॉम्पसन को उनके कला प्रदर्शनियों के लिए जाना जाता है. उन्होने एक प्रदर्शनी में नग्न महिलाओं के विभिन्न मुद्राओं में सौ पुतलें लगाए थे. हालांकि ऑस्ट्रिया में इस स्कूल के खिलाफ़ विरोध शुरु हो चुका है. इस स्कूल के ‘भड़काऊ’टीवी विज्ञापनों को पहले ही प्रतिबंधित किया जा चुका है. उसी देश के कई लोग नहीं चाह्ते की इस तरह का कोई स्कूल खुले. इससे आम लोगों की लाइफ पर असर पड़ेगा.

कईयों का मानना है की ये इश्क़वाला लव सिखाने वाले स्कूल खुलेआम सेक्स बेच रहा है, जबकि कुछ लोग इसके सपोर्ट में भी खड़े हुए हैं. लोगों को लगता है कि आज के दौर में जब लोग मानवीय रिश्ते भूल चुके हैं ऐसे स्कूल की सख्त ज़रुरत है.

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply