Chamba

चंबा के नशा तश्कर डरने लगे हिमाचल की SP बेटी से, सैकड़ों को पहुंचाया सलाखों के पीछे

nn
loading...

चंबा: नशा माफिया पर शिकंजा कसते हुए एसपी चंबा ने अभी तक सैकड़ों तस्करों को सलाखों के पीछे पहुंचाया है. हिमाचल में बढ़ते नशे की प्रवृति में अंकुश लगाने में चंबा एसपी मोनिका ठाकुर बेहतरीन काम कर रही हैं. बता दें कि चंबा पुलिस ने जनवरी से लेकर अभी तक करीब एक क्विंटल चरस की खेप को पकड़ा है, जबकि पिछले वर्ष जिला में 32 किलो चरस पकड़ी गई थी. चरस के साथ-साथ पुलिस ने चंबा में चिट्टे के तस्करों को भी जेल पहुंचाया है. जिला में पुलिस लगातार नशे के खिलाफ मुहिम चलाए हुए है. पुलिस मुस्तैदी से नशा तस्करों की धरपकड़ कर रही है.

एसपी चंबा की देखरेख में पुलिस समय-समय पर स्कूलों और कॉलेज में युवाओं को नशे से दूर और इसके साइड इफेक्ट के बारे में बताने का प्रयास कर रही है. जिला में अधिकतर मामलों में देखा गया है कि युवा वर्ग ज्यादा नशे के चंगुल में फंसता जा रहा है.

इसके अलावा चोरी की वारदातों में चंबा पुलिस ने करीब 4 लाख रुपये की रिकवरी की है. इसे साथ ही 58 हजार एमएल शराब पकड़ी गई है. सड़क दुर्घटना में अंकुश लगाने के लिए बिगड़ैल चालकों पर एसपी चंबा ने शिकंजा कसा है. अभी तक 482 ड्राइविंग लाइसेंस कब्जे में लेकर कैंसलेशन के लिए आरएलए कार्यालय को भेजा गया है.

खनन माफिया पर शिकंजा कसते हुए 52 हजार का जुर्माना किया गया है. कोटपा अधिनियम के तहत 149 चालक करते हुए किए गए हैं. जुआ अधिनियम के तहत 3 लाख 35 हजार रुपये बरामद किए गए हैं.

बुधवार को चंबा पहुंचे पुलिस महानिदेशक एसआर मरडी ने जिले में नशे के खिलाफ किए गए काम के लिए पुलिस कप्तान मोनिका की पीठ थपथपाई. उन्होंने कहा कि चंबा में पुलिस ने करीब 91 किलो चरस बरामद की है और कई तस्करों को सलाखों के पीछे धकेला जो कि पूरे प्रदेश के लिए गर्व की बात है.

loading...