India

जंग जैसे हालात में फायदेमंद साबित होगा मोदी सरकार का जमीन के नीचे तेल जमा करना

nn
loading...
जंग जैसे हालात में फायदेमंद साबित होगा मोदी सरकार का जमीन के नीचे तेल जमा करना – नरेंद्र मोदी सरकार ने ओडि‍शा और कर्नाटक में अंडरग्राउंड क्रूड ऑयल स्‍टोरेज बनाने के लि‍ए सैद्धांतिक  मंजूरी दे दी है। इन स्‍टोरेज के बनने से भारत के पास  22 दि‍न का इमर्जेंसी स्‍टॉक हो जाएगा। सरकार ऐसा इसलि‍ए कर रही है ताकि‍ अगर वि‍देश से सप्‍लाई कम होती है या खाड़ी में युद्ध जैसी स्‍थि‍ति‍ आती है तो भारत के पास एनर्जी सि‍क्‍योरि‍टी बनी रहेगी। 

इन दो स्‍ट्रैटजि‍क पेट्रोलियम रि‍जर्व (SPR) फैसि‍लि‍टी की कैपेसि‍टी 6.5 मि‍लि‍यन मैट्रि‍क टन (MMT) है। भारत के पास पहले से ही तीन जगहों – वि‍शाखापट्टनम (1.33 MMT) , मंगलौर (1.5 MMT) और पदूर (2.5 MMT) में 5.33 MMT स्‍टोरेज की अंडरग्राउंड गुफाएं हैं। 


ऑयल कंपनि‍यों के पास मौजूद क्रूड ऑयल और पेट्रोलि‍यम प्रोडक्‍ट्स के अलावा स्‍ट्रैटजि‍क रि‍जर्व ऑयल के लि‍ए स्‍टोरेज फैसि‍लि‍टी बनाई जाती है। क्रूड ऑयल स्‍टोरेज को जमीन के नीचे पत्‍थरों की गुफाओं में बनाया जाता है। पत्‍थर की गुफाएं मानव नि‍र्मि‍त होती हैं और इनहें हाइड्रोकार्बन जमा करने के लि‍ए सबसे सुरक्षि‍त माना जाता है। 

क्‍यों बनाया जा रहा है इन्‍हें?

ऑयल रि‍जर्व को कि‍सी भी तरह के बाहरी सप्‍लाई में रुकावट के दौरान राहत उपलब्‍ध कराने के लि‍ए बनाया जाता है, ताकि‍ भारत की एनर्जी सिक्‍योरि‍टी को सुनि‍श्‍चि‍त कि‍या जा सके। इन ऑयल रि‍जर्व को इंडि‍यन स्‍ट्रैटजि‍क पेट्रोलि‍यम रि‍जर्व लि‍मि‍टेड द्वारा मैनेज कि‍या जाता है।  

from Blogger https://ift.tt/2z0MaIm

Online Earning Hai Easy

Leave a Reply