HimachalJobsKangraShimla

डेढ़ हजार TMPA भर्ती करेगा HRTC

nn
loading...
डेढ़ हजार TMPA भर्ती करेगा HRTC

परिवहन निगम कर्मियों को 50 फीसदी ग्रेड-पे का तोहफा

  • 325 छोटी बसें अगले माह आएंगी, 8 इलेक्ट्रिक वैन भी
  • परिवहन मंत्री बाली ने दी BDO के फैसलों की जानकारी
हिमाचल दस्तक ब्यूरो। शिमला
हिमाचल परिवहन निगम में 15 सौ के करीब TMPA कर्मचारियों की भर्ती की जाएगी। हालांकि ट्रिब्यूनल के आदेश के बाद HRTC ने 498 TMPA परीक्षा परिणाम भी घोषित कर दिए हैं, लेकिन अगले चरण में 12 सौ से 15 सौ के बीच नई भर्तियां की जाएगी। शुक्रवार को HRTC की बीओडी मीटिंग में हुए निर्णय के बाद परिवहन मंत्री GS बाली ने यह जानकारी दी।
उन्होंने कहा कि HRTC में अभी भी दो हजार TMPA की कमी हैं। इसे जल्द ही भरने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। परिवहन निगम के कर्मियों को 50 फीसदी ग्रेड-पे का तोहफा भी दे दिया है। इससे 555 अनुबंध कर्मचारियों को लाभ मिलेगा। बाली ने कहा कि BDO में 14 सुपर लग्जरी बसें खरीदने के लिए भी मंजूरी दी गई। इसके साथ ही 325 छोटी और 250 बड़ी बसें अगले माह हिमाचल पहुंच जाएगी।
उन्होंने कहा कि सुपर लग्जरी बसें प्रदेश के प्रमुख शहरों से अमृतसर, ऋषिकेश और दिल्ली के लिए चलाई जाएगी। जीएस बाली ने कहा कि जल्द ही आठ सीटर इलेक्ट्रिक वैन खरीदी जाएंगी, जिसके लिए ऑर्डर भी जारी कर दिए हैं। उन्होंने कहा कि ये बसे महेंद्रा कंपनी की होगी। इसके साथ ही 25 सीटर छोटी बसें आगामी 40 दिनों के भीतर पहुंच जाएगी। परिवहन मंत्री GS बाली ने कहा कि प्रदेश में एक रुपये प्रति किलोमीटर की बस सेवा भी शुरू होगी। सुप्रीम कोर्ट में केस जीतने के बाद एचआरटीसी ने यह निर्णय लिया है।

बेरोजगारों के लिए फिक्स हैं 50 रूट

परिवहन मंत्री GS बाली ने कहा कि प्रदेश के बेरोजगारों के लिए 50 बस रूट फिक्स किए हैं। उन्होंने कहा कि 15 सिंतबर तक ये रूट फाइनल किए जाएंगे। प्राथमिकता के तौर पर शिमला और धर्मशाला के बेरोजगारी युवाओं को रूट दिए जाएंगे। जीएस बालीने कहा कि प्रदेश के सभी बस स्टैंड में CCTV कैमरे लगेंगे।
सभी बस अड्डों को एसी सुविधा से जोडऩे की प्रक्रिया भी जल्द शुरू होगी। उन्होंने कहा कि बच्चों को खेलने की सुविधा देने के लिए भी HRTC ने बस अड्डों पर खेल पार्क बनाने का भी निर्णय लिया है। बाली ने कहा कि शाहपुर, चिडग़ांव, दलैड, कोटली, बडोह तथा नूरपुर बस अड्डों के उद्घाटन अगले माह किए जाएंगे।
Source – Himachal Dastak

Leave a Reply