HimachalPolitics

देश के सबसे उम्रदराज मुख्यमंत्री का रिकार्ड वीरभद्र के नाम, जानिए कितनी है आयु

nn
ताजा आंकड़ों पर नजर दौड़ाई जाए तो देश के 29 राज्यों में हिमाचल के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह (84) अन्य मुख्यमंत्रियों के मुकाबले सबसे अधिक आयु के हैं। इससे पहले यह रिकार्ड 6 माह पहले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (89) के पास था।

दिलचस्प बात यह है कि महिला वर्ग में भी हिमाचल पीछे नहीं है। सभी राज्यों में बतौर महिला मंत्री के नाते हिमाचल की विद्या स्टोक्स (89) महिला मंत्रियों की रेस में सबसे ऊंचे पायदान पर हैं। कांग्रेस के 5 बचे राज्यों मिजोरम, मेघालय, कर्नाटक, हिमाचल व पंजाब में आयु प्रतिशत ज्यादा है। 
उधर, विपक्षी दल भाजपा के 13 शासित राज्यों एवं अन्य 5 में सहयोगी दलों के साथ बनी सरकारों में आंकड़े गवाह हैं कि अब उम्रदराज नेताओं का दबदबा खत्म हो रहा है तथा मुख्यमंत्री पद के लिए युवाओं को तरजीह दी जा रही है।

भाजपा शासित राज्यों में अरुणाचल के सी.एम. पेमा खांडू उम्र (38), यू.पी. के सी.एम. आदित्यनाथ योगी (46), महाराष्ट्र के सी.एम. देवेंद्र फड़णवीस (47), असम के सी.एम. सर्वानंद सोनोवाल (55), मणिपुर के सी.एम. वीरेन सिंह (56), उत्तराखंड के सी.एम. त्रिवेंद्र रावत (57), मध्यप्रदेश के सी.एम. शिवराज चौहान (58), हरियाणा के सी.एम. मनोहर खट्टर (61), गोवा के सी.एम. मनोहर पार्रिकर (62), झारखंड के सी.एम. रघुवर दास (62), गुजरात के सी.एम. विजय रूपानी (63), छत्तीसगढ़ के सी.एम. रमन सिंह (65) व राजस्थान की सी.एम. बसुंधरा राजे (68) हैं। ये आंकड़े दर्शाते हैं कि भाजपा युवा चेहरों को अधिमान देने की नीति की ओर अग्रसर है।


बतौर मुख्यमंत्री लंबी पारी खेलने में पश्चिम बंगाल के पूर्व मुख्यमंत्री ज्योति बशु का नाम है। ज्योति बशु 1977 से लेकर 2001 तक लगातार 24 वर्ष मुख्यमंत्री पद पर बने रहे। अभी तक इस रिकार्ड के नजदीक कोई भी नेता नहीं है। दूसरे नंबर पर पंजाब के 89 वर्षीय पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल जो 6 माह पूर्व मुख्यमंत्री पद संभालने वाले सबसे उम्रदराज नेता थे।

वीरभद्र ने 23 वर्ष संभाला मुख्यमंत्री का पद
वीरभद्र सिंह ने 23 वर्ष मुख्यमंत्री का पद संभाला परंतु वह लगातार सिर्फ एक बार 1983 से लेकर 1990 तक मुख्यमंत्री रहे लेकिन आज देश में वीरभद्र सिंह ऐसे नेता हैं जो लंबी पारी खेलते हुए देश के सभी राज्यों के मुख्यमंत्री की तुलना में उम्रदराज होते हुए भी अगला चुनाव अपने नेतृत्व में लडऩे की क्षमता जता रहे हैं।

Loading...
loading...

Leave a Reply