HimachalUna

धोखाधड़ीः सरकारी नौकरी के नाम पर 4 लाख 39 हजार की लग गई चपत

fraud-una
nn

दियाड़ा निवासी एक व्यक्ति ने अंब थाना में खुद के साथ नौकरी के नाम पर लाखों की धोखाधड़ी होने की शिकायत दर्ज करवाई है। एक प्राइवेट कंपनी शाइन डॉट कॉम और खुद को कंपनी के कर्मचारी बताने वाले उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर निवासी राहुल कश्यप व आशीष पांडेय और दिल्ली के मयूर विहार निवासी सुमित कुमार के खिलाफ धोखाधड़ी करने की शिकायत दर्ज करवाई है।

loading...

उसने पुलिस को बताया कि नौकरी के लिए एक कंपनी शाइन डॉट कॉम में अपना रिज्यूम डाला था, जिस पर कंपनी की तरफ से राहुल कश्यप की कॉल आई की 1600 रुपये कंपनी के पीआरएम आशीष पाण्डेय के अकाउंट में जमा करवाने को कहा गया, जिस पर सुशील ने पैसे जमा करवा दिए। फिर उसे बोला गया की ऑनलाइन इंटरव्यू लिया जाएगा और उसके बाद फिर से 10,200 रुपये जमा करवाने को कहा गया।

यह पैसे भी सुशील ने एसबीआई के अकाउंट में जमा करवा दिया, उसके बाद उसे कुछ कागज पर हस्ताक्षर कर ई-मेल के जरिए भेजने को कहा गया और 12,400 रुपये जमा करवाने को भी कहा गया, जिस पर सुशील ने 5 और 6 सितंबर को 6000 और 6400 रुपये आशीष पांडेय के अकाउंट में डाल दिए फिर उससे पैन और आधार कार्ड नंबर मांगा गया और 10 हजार रुपये और जमा करवाने के लिए कहा गया, उससे कहा गया कि उसका कॉर्पोरेट अकाउंट खुलेगा। जिसमें उसकी सैलरी डलेगी। 13 सितंबर को उसने 10 हजार भी जमा करवा दिए।

14 सितंबर को उससे साढ़े 20 हजार रुपये की मांग ईमेल के जरिए की गई, जिस पर सुशील ने 20 हजार 500 रुपये भी आशीष पांडेय के अकाउंट में जमा करवा दिए। इस तरह हर बार सुशील से पैसे मांगे जाते रहे और वह देता रहा। कभी कन्फर्मेशन लैटर देने के नाम पर तो कभी कुछ बोलकर वे सुशील को ठगते रहे। 21 सितंबर 2017 को उसे फिर से 25 हजार जमा करवाने को कहा गया उसे बोला गया कि ये आखिरी बार लिए जा रहे हैं।

उसकी जॉब एचडीएफसी की नंगल रोड ऊना ब्रांच में लग जाएगी और लिए गए सारे पैसों में से आधी राशि उसे जॉब लगने के 15 दिन के भीतर लौटा दी जाएगी। फिर उसे कह गया के अब उसे एचडीएफसी के बजाय आईसीआईसीआई में नौकरी दिलवाई जाएगी और फिर से 30 हजार रुपये मांगे गए और कुल 3 लाख 65 हजार 500 रुपए ठगने के बाद भी उसे जॉब नहीं दी गई। जब सुशील ने उनसे अपने पैसे लौटाने को कहा तो पैसे लौटाने के एवज में उससे फिर 68 हजार रुपये लूट लिए, लेकिन उसके पैसे वापस नहीं दिए।

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply