Shimla

पेट्रोल-डीजल के दाम कम होने पर उठने लगी बस किराया कम करने की मांग

nn
loading...

जनवादी महिला समिति ने शुक्रवार को हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा बस किराये में बढ़ोतरी के खिलाफ जिलाधीश कार्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन किया. इस दौरान महिलाओं ने बस किराये में बढ़ोतरी को लेकर एडीसी के माध्यम से प्रदेश सीएम जयराम को ज्ञापन सौंपा.

ज्ञापन के तहत महिलाओं ने बढ़ा हुए बस किराया वापस लेने की मांग की है. बता दें कि गुरुवार आधी रात से हिमाचल में पेट्रोल-डीजल के दामों में प्रति लीटर पांच रुपये कटौती की गई थी. पेट्रोल का दाम हिमाचल में पहले जहां 84.26 पैसे था. वहीं, अब पेट्रोल की कीमत 79.98 हो गई है. वहीं, डीजल का दाम पहले 75 रुपये था, जो अब घटकर 70 रुपये पहुंच गया है. जिला सचिव फालमा चौहान ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया है कि प्राइवेट बस ऑपरेटर्स को फायदा पहुंचाने के लिए बस किराये में ये बढ़ोतरी की गई है, जिसका प्रभाव सामज के हर वर्ग पर पड़ रहा है.

महिला समिति ने सरकार से जल्द से जल्द बढ़े हुए बस किराये को वापस लेने की मांग की है. वहीं, महिला समिति के सदस्यों ने चेतावनी दी है कि अगर जयराम सरकार बस किराये में की गई बढ़ोतरी को वापस नहीं लेती तो उग्र आंदोलन किया जाएगा.

loading...