KangraPalampur

भवारना के इलाकों में कर्नाटक पुलिस की दबिश, लाखों रुपये की हेराफेरी के मामले की तफ्तीश जारी

Karnataka Police
nn
loading...

Karnataka Police का विशेष दल तीन दिन से इलाके में डेरा डाले हुए है। पुलिस दल यहां लाखों रुपये की हेराफेरी के मामले की तफ्तीश करने पहुंचा हुआ है। तीन दिन से खाक छान रहे इस दल के हाथ अभी खाली हैं। अपनी जांच में किसी प्रकार की मिलीभगत न हो, इसलिए स्थानीय पुलिस को भी इस मामले से दूर रखा जा रहा है।

कर्नाटक पुलिस का एक विशेष दस्ता अपने राज्य में लाखों रुपये की धोखाधड़ी के दर्ज मामले को सुलझाने के लिए उपमंडल पालमपुर पहुंची हुई है। उनके अपने राज्य में एक एल्युमिनियम से भरा एक ट्रक जिसकी कीमत लाखों में बताई जा रही है, चालक ने गायब कर दिया था। यह मामला दर्ज हुआ और ट्रक को एल्युमिनियम सहित गायब करने में कुछ हिमाचली लोगों के इसमें संलिप्त होने का सुराग भी पुलिस के हत्थे लगा है। कर्नाटक पुलिस की छानबीन में एक व्यक्ति सामने आया जिसने पुलिस पूछताछ में पालमपुर उपमंडल के भवारना और पंचरुखी थाना क्षेत्र के कुछ लोगों के शामिल होने की शंका जाहिर की है। इसी सिलसिले में कर्नाटक पुलिस का एक दल क्षेत्र डेरा डाले हुए है।

शुक्रवार को इस दल ने पालमपुर उपमंडल के भवारना और पंचरुखी पुलिस की मदद से डरोह के साथ लगते कुछ ठिकानों पर भी दबिश दी थी,लेकिन उनके हाथ कुछ भी नहीं लगा। यह दल शुक्रवार के बाद स्थानीय पुलिस की मदद के बिना ही अपने स्तर पर इलाके के कई ठिकानों में गुप्त तरीके से पूछताछ कर रहा है। इसी कड़ी में रविवार को इस दल ने पुढ़वा ,बलोटा, भवारना, गढ़ जमूला, खैरा ओर भाडल देवी सहित कई गांवों में दबिश दी। खास कर इन इलाकों में रह रहे प्रवासी लोगों से गहनता से पूछताछ की। बाहरी पुलिस दल की ओर से इस तरह की गहन पूछताछ से इलाके के लोगों में चर्चा के बाजार गर्म हैं। पालमपुर उपमंडल में ऐसे हजारों प्रवासी मजदूर हैं जो बिना किसी पंजीकरण के यहां रह रहे। डीएसपी पालमपुर राजिंद्र शर्मा ने कर्नाटक पुलिस के एक दल किसी मामले की छानबीन बारे यहां आने की पुष्टि की है।

Loading...
loading...

Leave a Reply