IndiaPolitics

भाजपा प्रत्याशी ने महिला एसपी को दी धमकी, एक्‍शन में मत दिखो, बहुत महंगा पड़ेगा

nn
loading...

गोरखपुर। लोकसभा उपचुनाव में शांतिपूर्ण मतदान होते हुए भी एक विवाद काफी चर्चा में है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें भाजपा प्रत्‍याशी उपेंद्र दत्त शुक्ला और तेज तर्रार लेडी सिंघम एसपी चारू निगम के बीच तीखी बहस हो रही है। हालांकि अभी इस मामले पर दोनों में से किसी की भी प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

मामला सहजनवां विधानसभा के टेकवार, धदौना बूथ का है। शाम के 5 बज चुके थे और बूथ पर मौजूद मतदाताओं को मतदान कराकर लगभग 5.10 बजे अनावश्यक लोगों को वहां से हटा दिया गया था। उसी समय भाजपा प्रत्याशी उपेंद्र दत्त शुक्ल काफी आक्रोशित अवस्था में वहां पहुंचे और निर्धारित समय के बाद भी वोटिंग कराने की जिद करने लगे। इसी को लेकर एसपी चारू निगम और भाजपा प्रत्याशी के बीच बहस हो गई। उपेन्‍द्र दत्‍त शुक्‍ल ने चारू निगम को यहां तक कह दिया कि आप किसी पार्टी की कार्यकर्ता के रूप में काम मत करिए।

Online Earning Hai Easy

इस दौरान जब एसपी के गनर से उन्‍हें समय समाप्‍त होने की बात कही, तो उपेन्‍द्र दत्‍त शुक्‍ल उसी पर भड़क गए। उन्होंने गनर को सख्‍त लहजे में फटकारते हुए कहा कि मैं तुमसे नहीं, बल्कि तुम्‍हारी अधिकारी से बात कर रहा हूं। जब एसपी ने इस बात का जवाब देते हुए कहा कि वो मेरा गनर है और अपनी ड्यूटी कर रहा है तो उन्‍होंने उंगली दिखाते हुए यहां तक कह डाला कि एक्‍शन में मत दिखो, बहुत महंगा पड़ेगा। जब एसपी ने उन्‍हें उंगली नीचे करने की हिदायत दी तो वह उन्हें ही अर्दब में लेने की कोशिश करने लगे।

इसी बीच ईवीएम की खराबी की भी बात उठी, तो एसपी ने कहा कि ईवीएम की खराबी में हमारा दोष नहीं है। हमारा काम लॉ एण्‍ड ऑर्डर को मेंटेन करना है। इसके बाद किसी बात को लेकर एसपी के गनर ने भी उपेन्‍द्र दत्‍त शुक्‍ल को समझाने का प्रयास किया, जिस पर उपेंद्र दत्त शुक्ला आक्रोशित हो गए और एसपी चारु निगम से उनकी तीखी बहस हो गई।

बहस बढ़ते देख एसपी ने कहा कि आप सेक्टर मजिस्ट्रेट से इस मामले पर बात करें अगर वो बोल देंगे तो हम मतदान करवा देंगे। इसके बाद सेक्टर मजिस्ट्रेट ने भी मशीन पर क्लोज का बटन दबने की बात कहते हुए इंकार कर दिया। इसके बाद भाजपा प्रत्याशी उपेन्‍द्र दत्‍त शुक्‍ल काफी नाराज होते हुए तैश में आ कर बोलने लगे कि नियोजित तरीके से सेक्टर मजिस्ट्रेट और एसपी ने मेरा नुकसान किया है।

इस मतदान केंद्र पर कुछ गड़बड़ी की सूचना किसी के द्वारा उच्चाधिकारियों को दी गई थी। लॉ एंड ऑर्डर मेन्टेन करने और शांतिपूर्ण मतदान करवाने के लिए उच्चाधिकारियों ने एसपी चारु निगम को इस मतदान केंद्र पर भेजा था।

Leave a Reply