DharamHimachalShimla

मां चिंतपूर्णी के दर्शन के लिए श्रद्धालु ने सड़क पर कब्जों और अन्य परेशानियों,श्रद्धालु ने HC को लिखा पत्र

maa chintpurni
nn
मां चिंतपूर्णी के दर्शन करने के लिए भक्तों को आ रही परेशानी, श्रद्धालु ने HC को लिखा पत्र : ऊना जिला के शक्तिपीठ चिंतपूर्णी में मां के दर्शन के लिए सबसे अधिक श्रद्धालु पंजाब से आते हैं। ऐसे ही एक श्रद्धालु ने मंदिर के रास्ते पर आने वाली परेशानियों को लेकर हाईकोर्ट को पत्र लिखा है। अदालत ने इस पत्र पर संज्ञान लेते हुए ऊना जिला के अंब के एसडीएम को कार्रवाई के आदेश जारी किए हैं। हाईकोर्ट ने एसडीएम अंब को कहा है कि वह भरवाईं से चिंतपुर्णी मंदिर स्थल तक जाने वाली सड़क पर किए गए कब्जों को तुरंत प्रभाव से हटवाया जाए।

हाईकोर्ट ने ये भी कहा है कि अगर जरूरत पड़ती है तो एसपी को पुलिस सुरक्षा मुहैया करवानी होगी। हाईकोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय करोल और न्यायाधीश अजय मोहन गोयल की खंडपीठ ने भरवाईं से चिंतपूर्णी माता मंदिर तक किए गए अवैध कब्जों पर कड़ा संज्ञान लेते हुए यह आदेश पारित किए हैं।

loading...

न्यायालय ने कहा कि हर वर्ष नवरात्रों के दौरान चार लाख के करीब लोग चिंतपूर्णी माता के दर्शनों के लिए आते हैं।

लेकिन इनके ठहरने के लिए कोई भी प्रबंध नहीं किया गया है। न्यायालय ने मंदिर अधिकारी यानी जिलाधीश ऊना के शपथ पत्र का अवलोकन करने के बाद पाया कि माता के दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं के लिए किसी भी तरह का इंतजाम नहीं किया गया है। ऐसी कोई व्यवस्था नहीं है कि श्रद्धालु गर्मी या बारिश के दिनों में दर्शनों के लिए अपनी बारी का इंतजार आराम से कर सकें।

इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि भरवाईं से मंदिर तक जाने वाली सडक़ पर अवैध कब्जे किए गए हैं। ये हिमाचल प्रदेश रोड साइड कंट्रोल एक्ट के प्रावधानों का उल्लंघन है। हाईकोर्ट के नाम पंजाब के फगवाड़ा निवासी मुनीष सुधीर ने पत्र लिखा था। मामले की सुनवाई अब 19 जून को होगी।

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply