Kangra

मुआवजे की राशि के लिए मौत की नींद सुला दी गाय

nn
loading...

जोगिंद्रनगर: लडभड़ोल तहसील के अंतर्गत आने वाली पंचायत में एक व्यक्ति द्वारा गाय को केवल इसलिए मौत के घाट उतारने का मामला सामने आया है ताकि सरकार की ओर से मिलने वाली मुआवजे की राशि हासिल की जा सके। 

गाय की मौत के बाद उक्त व्यक्ति पशु चिकित्सालय पहुंचा तथा गाय की मौत का कारण सांप द्वारा काटना बताकर पोस्टमार्टम की मांग करने लगा व पटवारी पर भी इस मामले में रिपोर्ट देने के लिए दबाव बनाने लगा। कुछ बयानों तथा मौके पर पाए गए साक्ष्यों के आधार पर जब लगा कि उक्त व्यक्ति द्वारा मुआवजा हड़पने के लिए यह कहानी बनाई गई है तो एस.डी.एम. अमित मेहरा के आदेशों पर पुलिस ने उक्त व्यक्ति के खिलाफ पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया तथा गाय का पोस्टमार्टम करवाया।

Online Earning Hai Easy

पशुपालन विभाग ने मौत के कारणों का नहीं किया खुलासा

पशुपालन विभाग ने अभी मौत के कारणों का खुलासा नहीं किया है तथा गाय का बिसरा जांच के लिए जुन्गा लैब भेजा है लेकिन सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पशु चिकित्सक ने प्रथम दृष्टया में गाय की मौत के पीछे भूख को कारण माना है। पशुपालन विभाग गाय की मौत के असली कारणों का पता बिसरा रिपोर्ट आने के बाद ही बताने की बात कर रहा है।

ऐसे सुला दिया गाय को मौत की नींद

जानकारी के अनुसार इस व्यक्ति ने बेसहारा गाय को अपने खूंटे से बांध लिया था और इसके बाद उसे कई दिनों तक भूखा रखा जिसके चलते उसकी मौत हो गई तथा पूरी तरह संवेदनहीनता के गर्त में डूबा यह व्यक्ति गाय का मुआवजा लेने के लिए प्रशासन के पास पहुंच गया। सरकारी कर्मियों की सजगता के कारण इस व्यक्ति को मुआवजा तो नहीं मिला पर अब उलटी आफत गले पड़ गई है।

पशुओं को मारने का चल रहा खेल

पालतू पशुओं के काम के योग्य न रहने के बाद उन्हें बेसहारा छोडऩे का सिलसिला तो कई वर्षों से चल रहा है लेकिन अब पशुओं को भूखा मार कर उनका मुआवजा हासिल करने की अपनी घटिया, नीच तथा धर्म विरोधी मानसिकता का परिचय देने से भी लोग कतई खौफ नहीं खा रहे हैं। एक वरिष्ठ पशु चिकित्सक ने बताया कि ऐसे मामलों की संख्या बढ़ती जा रही है। लोग पशुओं को भूखा रख उन्हें धीरे-धीरे मौत की नींद सुला रहे हैं तथा बाद में उनके मुआवजे का भी दावा कर रहे हैं। ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

गौ हत्या का मामला दर्ज किया जाए

प्रदेश कांग्रेस सचिव राकेश चौहान ने कहा कि प्रशासन से मांग की जाती है कि सामने आए मामले की पारदर्शिता से शीघ्र जांच की जाए तथा पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के स्थान पर ऐसे लोगों के खिलाफ गौ हत्या का मामला दर्ज किया जाए। गाय को हिंदू धर्म में माता का दर्जा प्राप्त है तथा गौवंश के साथ ऐसी बर्बर क्रूरता किसी तरह भी सहन नहीं होगी।

क्या कहती है पुलिस

थाना प्रभारी संजीव कुमार ने बताया कि गाय का पोस्टमार्टम करवाया गया है तथा फाइनल रिपोर्ट का इंतजार है। आरोपी के खिलाफ पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है।

from Blogger https://ift.tt/2zflyng

Leave a Reply