ajab gazab

यहां महिलाएं पति के जीवित रहते ही 3 महीने हो जाती है विधवा, वजह जानकर होंगे हैरान

married-woman
nn
भारतीय महिलाओं के लिए तो पति ही परमेश्वर है। भारत में महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के लिए न जाने कितने व्रत रखती हैं। यह प्रथा आज से नहीं बल्कि पौराणिक काल से चली आ रही है। भारत में नारियां अपने सुहाग के लिए सौलह श्रंगार करती है पर आपको जानकर हैरानी होगी भारत में एक ऐसी जगह है जहाँ महिलाएं अपने पति की दीर्घायु के सालभर में तीन महीने विधवाओं के जैसे रहती हैं।

तीन महीने तक रहती है विधवा:

इस प्रथा के अनुसार महिलाएं अपने सुहाग की लम्बी आयु के लिए तीन महीनों तक कोई श्रृंगार नहीं करतीं और विधवाओं जैसा कष्टभरा जीवन जीतीं हैं। उत्तर प्रदेश के दवरिया जिले के बेलवाड़ा में महिलाएं हर साल तीन महीने का मातम मानती है।

छाया रहता है मातम:

इन तीन महीनों तक एक अजीब सी खामोशी पूरे गांव में पसरी रहती है और हर तरफ मातम का माहौल छाया रहता है। इस गांव में मई से जुलाई तक सन्नाटा और मातम सा पसरा रहा है।  महिलाएं अपने जीवित पति के मरने जैसा गम मानती है और एक-दूसरे का दुःख भी इस महिलाएं साझा करती है।

Loading...
loading...
[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply