HimachalMandi

रशियन लड़की को हुआ हिमाचली गबरू से ऑनलाइन प्यार, हिमाचल आकर की शादी

nn
loading...

मंडी : सात समंदर पार की एक युवती को हिमाचल की संस्कृति व रीति-रिवाज इस कद्र भा गए कि उसने अपने देश की बजाय यहां आकर न केवल ङ्क्षहदू रीति-रिवाज अनुसार सात फेरे लिए बल्कि कन्यादान के लिए भी अपने होने वाले ससुर के मित्र को मना लिया और उनके हाथों से कन्यादान करवाकर अपने ससुराल चली गई।

सोमवार को सरकाघाट के रोपड़ी में इस विदेशी युवती ने स्थानीय युवक के साथ सात फेरे लिए और सादे कार्यक्रम में यह शादी पूरी ङ्क्षहदू रस्मों के साथ हुई, जिसमें वधू पक्ष से कन्यादान करने वाले सरौर चौक पर मिठाई की दुकान करने वाले रमेश कुमार का परिवार व विदेशी युवती के सगे भाई-बहन ही थे जबकि युवती के माता-पिता अस्वस्थ बताए गए और वे अपनी पुत्री की इस खास शादी में शामिल नहीं हो सके। शादी की सारी रस्में दोनों मित्रों के परिवारों ने मिलकर निभाईं और लोगों को धाम भी परोसी।

ऐसे हुई ऑनलाइन दोस्ती  

   

रशिया के मॉस्को शहर की युवती स्वेटलाना अर्नीकोवा अकाऊंटैंट का काम करती है और सरकाघाट के रोपड़ी का सुशांत ठाकुर शिमला स्थित एक कंपनी में बतौर टीम लीडर काम करता है। दोनों की सोशल मीडिया के माध्यम से ऑनलाइन ही बातचीत शुरू हुई और दोनों एक-दूसरे से इतने परिचित हो गए कि ऑनलाइन इश्कबाजी के बाद दोनों ने एक-दूसरे के समक्ष शादी का प्रस्ताव रख दिया।

फिर क्या युवती ने एक शर्त रखी कि वह हिमाचल आकर ही शादी करना चाहती है और यहां की संस्कृति व रीति-रिवाज अनुसार ही सात फेरे लेगी। सुशांत ठाकुर ने यह बात अपने पिता विनोद को बताई तो उन्होंने हामी भर दी लेकिन अड़चन बेटी के कन्यादान को लेकर हुई तो उन्होंने अपने दोस्त रमेश जो पेशे से दुकानदार हैं, को यह बात बताई तो वह तुरंत इस पुनीत कार्य के लिए तैयार हो गए।

एक माह से चल रही थी तैयारियां 

एक माह से इस शादी की तैयारियां चल रही थीं और युवती 2 माह के टूरिस्ट वीजा पर भारत आई है तथा 15 दिन शिमला में अपने मित्र सुशांत के पास रही और शादी की रस्में पूरी करने के लिए 15 दिन पूर्व सुशांत के पिता विनोद के मित्र रमेश के घर सरौर आ गई थी और उन्हीं के हाथों उसका सोमवार को कन्यादान हुआ जबकि वधू पक्ष का पूरा जिम्मा रमेश ने ही उठाया। इस शादी के लिए 2 दिन पूर्व स्वेटलाना अर्नीकोवा के भाई ब्लाडीक व बहन तान्या भी पहुंच गई थी जो इस शादी से बेहद खुश दिखे। दोनों ने इस शादी का लाइव अपने माता-पिता को भी दिखाया जो बीमार होने के कारण यहां नहीं आ सके थे और बेटी के हाथ पीले देख फूले नहीं समा रहे थे। बताया गया कि अब स्वेटलाना अर्नीकोवा शिमला में ही अपने पति सुशांत के साथ प्राइवेट नौकरी करेगी।

Leave a Reply