HimachalJobs

सरकारी नौकरी के लिए हो जाओ तैयार, 588 पद भरे जाएंगे

Government Job 3282 पद हैं रिक्त

nn
loading...

हिमाचल प्रदेश में स्वास्थ्य महकमे में विभिन्न श्रेणियों के 588 पद भरे जाएंगे। इसके लिए राज्य लोक सेवा आयोग और कर्मचारी चयन आयोग को संस्तुति भेज दी गई है। मंगलवार को प्रदेश विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान ये जानकारी स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री विपिन सिंह परमार ने दी। Government Job 

उन्होंने कहा कि अगर कोई सरकारी चिकित्सक प्राइवेट प्रैक्टिस करता पाया गया तो उस पर कार्रवाई की जाएगी। मंत्री ने हर सिविल अस्पताल में डायलिसीज की सुविधा देने की बात कही।

सुजानपुर के कांग्रेेस विधायक राजेंद्र राणा के 11.20 मिनट पर स्वास्थ्य सेवाओं पर पूछे सवाल पर एक दर्जन विधायकों के अनुपूरक सवाल आए। इसके चलते पौने घंटे तक इसी सवाल पर चर्चा होती रही। अध्यक्ष राजीव बिंदल ने कुछ अतिरिक्त समय भी  दिया।

3282 पद हैं रिक्त (Government Job )

जवाब में स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार ने कहा कि प्रदेश के स्वास्थ्य संस्थानों में कुल मंजूर पद 10,004 हैं। इनमें से 6,772 पद भरे हुए हैं, जबकि 3282 रिक्त हैं। उन्होंने कहा कि 262 डाक्टरों को वाक-इन-इंटरव्यू से रखा गया है। जहां-जहां स्टेशन दिए गए हैं।

अधिकतर ने ज्वाइन भी कर दिया है। विभिन्न श्रेणियों के 588 रिक्त पदों को भरने के लिए आयोग को संस्तुति भेज दी गई है। इनमें ओटीए के 120, रेडियोग्राफरों के 135, प्रयोगशाला सहायकों के 132 और बाकी अन्य श्रेणियों के पद भरे जा रहे हैं।

अस्पताल में डायलिसिस मशीन पर पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत हर सिविल अस्पताल में डायलिसीज की मशीनें लगाने के साथ सुविधा दी जाएगी।

प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले डाक्टरों की जानकारी दो, कार्रवाई करेंगे

विधायक विक्रम जरियाल ने सरकारी अस्पतालों में तैनात डाक्टरों के प्राइवेट प्रेक्टिस का मामला उठाया। स्वास्थ्य मंत्री ने आश्वासन दिया कि प्राइवेट प्रेक्टिस के अधिकांश मामले सीमावर्ती राज्यों से सटे जिलों में हैं। उन्होंने कहा कि अगर ऐसे डाक्टरों की सूचना हमें मिले तो निश्चित कार्रवाई की जाएगी।

प्रतिनियुक्तियां होंगी निरस्त 
विधायक सुखराम ने बड़ी संख्या में चिकित्सकों और पैरामेडिकल स्टाफ के प्रतिनियुक्ति पर दूसरी जगह और राज्यों में जाने का मामला उठाया। इसपर मंत्री ने आश्वस्त किया कि चिकित्सकों की कमी को देखते हुए सभी प्रतिनियुक्तियां तुरंत प्रभाव से निरस्त की जाएंगी।

आपको भी बड़ी आसानी से मिल सकती है सरकारी नौकरी, जाने कैसे

अस्पतालों में बढ़ाए जाएंगे पद 
विधायक लखविंदर राणा के अनुपूरक सवाल पर स्वास्थ्य मंत्री ने बताया कि जिस समय अस्पतालों में चिकित्सक और अन्य स्टाफ के पद तय किये गए, तब वहां की जनसंख्या कम थी। सरकार अब नए सिरे से हर चिकित्सा संस्थान में पदों को बढ़ाएगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर से इस संबंध में चर्चा हो चुकी है कि बढ़ते मरीजों की संख्या के चलते पद बढ़ाने को लेकर रिव्यू किया जाना है।

टांडा में पैरामेडकिल के पद स्वीकृत नहीं
विधायक राकेश पठानिया के टांडा मेडिकल कालेज से संबंधित सवाल पर मंत्री ने बताया कि सुपर स्पेशियलिटी के लिए सरकार ने अभी तक पैरामेडिकल स्टाफ के पद ही स्वीकृत नहीं किये हैं। सरकार को इससे चलते दिक्कत आ रही है, जिसका जल्द समाधान निकाला जाएगा।

Leave a Reply