HimachalShimla

स्कूल से घर लौट रही छात्राएं गईं सतलुज किनारे, selfie लेते वक्त हो गया बड़ा हादसा

सेल्फी लेते वक्त हो गया बड़ा हादसा

selfie
nn
loading...

शिमला। एक बार फिर selfie के क्रेज ने जिंदगी को मौत के आगोश में धकेल दिया। शिमला के सुन्नी इलाके के निजी स्कूल की दसवीं कक्षा की दो छात्राएं स्कूल से घर आते समय सतलुज नदी के किनारे सेल्फी ले रही थीं कि अचानक पैर फिसल गया।

selfie लेने के चक्कर में गयी जान

सेल्फी लेते वक्त एक छात्रा का संतुलन बिगड़ गया और उसे बचाने के चक्कर में दूसरी छात्रा भी नदी में गिर गई। एक-दूसरे को बचाते हुए दोनों छात्राएं गहरी सतलुज नदी में जा गिरीं। एक छात्रा को तो आसपास खड़े लोगों ने बचा लिया गया,  जबकी दूसरी छात्रा सतलुज में बह गई जिसे सर्च ऑपरेशन चलाए जाने के बावजूद अभी तक नहीं खोजा जा सका है।

सर्च ऑपरेशन जारी

अभी भी पुलिस और स्थानीय लोग छात्रा को खोजने के लिए सर्च ऑपरेशन जारी रखे हुए हैं, लेकिन अंदेशा जताया जा रहा है कि छात्रा सतलुज नदी के तेज बहाव में बह गई है। हादसे में सुरक्षित बचाई गई छात्रा को शिमला के आईजीएमसी अस्पताल में दाखिल करवाया है, जहां उपचार के बाद अब उसकी हालत में सुधार आना शुरू हो गया है।
ये भी पढ़ें – पालमपुर में बारात का इंतजार करती रही दुल्हन, दूल्हा हो गया फरार

‘सहेली को बचाने के लिए नदी में कूद गई’ 
घायल छात्रा का कहना है की वो और उसकी सहेली कालीघाट के पास खड़ी थीं।  उसका कहना है कि सेल्फी लेते वक्त उसकी सहेली का अचानक पांव मुड़ गया और संतुलन बिगड़ते से पहले उसका मोबाइल फोन सतलुज नदी में गिर गया और  इसके बाद एक-दूसरे को बचाते हुए उसकी सहेली भी नदी में जा गिरी। छात्रा ने कहा कि वह अपनी सहेली को बचाने के लिए नदी में कूद पड़ी। इसके बाद क्या हुआ इसे भी याद नहीं है।

वहीं आईजीएमसी अस्पताल में उपचाराधीन छात्रा की मां का कहना है कि दोनों छात्राएं मंदिर से घर लौट रही थीं। दोनों अलग-अलग स्कूल में पढ़ती हैं लेकिन ट्यूशन एक साथ पढ़ने जाती थीं। उधर, आईजीएमसी के एमएस रमेश चंद ने कहा की लड़की अब खतरे से बाहर है।

Leave a Reply