HimachalShimla

हिमाचल की सड़कों पर जल्द दौड़ेंगी इलेक्ट्रिक टैक्सियां, जानिये किन स्थानों पर होगा कितना किराया तय

Electric Taxi
nn

शिमला। राजधानी शिमला में जल्द ही Electric Taxi शुरू होने वाली है। ये टैक्सियां टूटीकंडी बस स्टैंड से लेकर रिज मैदान तक चलेंगी। एचआरटीसी प्रबंधन ने प्रधान गृह सचिव को परमिट जारी करने के लिए पत्र लिखा है।

loading...

एचआरटीसी प्रबंधन ने शहर में इलेक्ट्रीक टैक्सियों के नौ रूट तय कर लिए हैं। प्रधानगृह सचिव द्वारा परमिट जारी किए जाने के बाद इन रूटों पर टैक्सियां चलनी शुरू हो जाएंगी। प्रदेश में इलेक्ट्रिक टैक्सियां खरीदने वाला हिमाचल पहला राज्य बना है। इन इलेक्ट्रिक टैक्सियों का फायदा शहरवासियों के साथ-साथ शिमला घूमने पहुंचने वाले पर्यटकों को भी होगा।

इन  स्थानों के लिए Electric Taxi चलेंगी व इतना होगा  किराया 

  • एचपी 52 बी 3501 टैक्सी नंबर समरहिल से सीटीओ एचपी तक चलेगी।
  • एचपी 52 बी 3502 टैक्सी नंबर नवबहार से आईजीएमसी वाया संजौली तक चलेगी।
  • एचपी 52 बी 3503 टैक्सी नंबर ओल्ड बस स्टैंड से सीटीओ तक चलेगी।
  • एचपी 52 बी 3505 टैक्सी नंबर बालूगंज से सीटीओ तक चलेगी।
  • एचपी 2 एसए बी 0102 टैक्सी नंबर टूटीकंडी बाईपास से सीटीओ वाया एजी ऑफिस तक चलेगी।
  • एचपी 2 एसए बी 0103 टैक्सी नंबर सचिवालय से आईजीएमसी वाया संजौली तक चलेगी।
  • एचपी 10 बी 1885 टैक्सी नंबर समिट्री से ढ़ली टनल, आईजीएमसी तक चलेगी।
  • एचपी 06 ए 9522 टैक्सी नंबर रिट्स से जाखू रोपवे नियर जोधा निवास तक चलेगी।
  • एचपी 52 बी 3506 टैक्सी नंबर ओल्ड बस स्टैंड से सचिवालय वाया हाईकोर्ट तक चलेगी।

बता दें शहर में चलने वाली ये टैक्सियां सात प्लस एक सीटर होंगी। एचआरटीसी प्रबंधन शहर में चलने वाली इलेक्ट्रिक टैक्सियों का किराया भी फिक्स कर लिया है। जिसके अंतर्गत पांच किलोमीटर तक की दूरी के लिए पांच रुपये किराया रखा गया है। 10 किमी तक के लिए 10 रुपये किराया होगा। 10 से 15 किमी की दूरी के लिए 15 रुपये तय किया गया है। 15 किमी से अधिक की दूरी के लिए 20 रुपये किराया निर्धारित किया गया है। वहीं, 20 किमी से अधिक की दूरी के लिए एक रुपये प्रति किमी के हिसाब से किराया तय किया गया है।

गौर हो कि आगामी दिनों में प्रदेशभर में एचआरटीसी द्वारा कुल 50 टैक्सियां चलाई जाएंगी। जिनमें से सात टैक्सियां शिमला में चलेंगी। वहीं, केलांग में दो, कुल्लू में दो, मनाली में तीन, मंडी में तीन, सुंदरनगर में एक, सरकाघाट में एक, नाहन में दो, रामपुर में दो, रिकांगपिओ में दो, रोहडू में दो, सोलन में तीन, करसोग में एक, नेरवा में एक, बैजनाथ में एक, चंबा में दो, धर्मशाला में पांच, पालमपुर में दो, बिलासपुर में दो, देहरा में एक, हमीरपुर में दो, नालागढ़ में दो और ऊना में एक  इलेक्ट्रिक टैक्सी चलेगी।

प्रदेशभर में चलने वाली इन इलेक्ट्रिक टैक्सियों में हर एक टैक्सी की कीमत करीब दस लाख रुपये है। जिसका 90 फीसदी भुगतान केंद्र का अर्बन डेवलपमेंट मंत्रालय करेगा, जबकि 10 फीसदी भुगतान प्रदेश सरकार को करना होगा।

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply