HimachalPolitics

हिमाचल में अब तक रहे हैं बिना मूंछ वाले CM, इस बार कौन होगा?

himachal-cm
nn
loading...

हिमाचल प्रदेश में अगला सीएम कौन होगा, यह सवाल बना हुआ है। गरमाते राजनीतिक माहौल के बीच एक मजेदार बात बताते हैं। हिमाचल प्रदेश में अब तक पांच मुख्यमंत्री रहे हैं और पांचों ही क्लीन शेव्ड रहे हैं यानी उन्होंने मूछें नहीं रखी थीं। उनके अलावा कई सारे कद्दावर नेता रहे जो मुख्यमंत्री पद के दावेदार रहे और इसके करीब भी आए, मगर हिमाचल के मुख्यमंत्री पद का सुख उन्होंने नसीब नहीं हुआ।

तो क्या संयग से ही हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पद के साथ मूंछों का योग जुड़ गया है? सबसे पहले डॉक्टर वाई.एस. परमार मुख्यमंत्री बने, जो कि बिना मूंछों के थे। उनके बाद ठाकुर राम लाल आए, उनकी भी मूंछें नहीं थी। बाद में सीएम बने वीरभद्र सिंह, शांता कुमार और प्रेम कुमार धूमल के भी मूंछें नहीं हैं।

ऐसे में इस मजेदार संयोग के आधार पर देखें तो कांग्रेस की सरकार बनती तो वीरभद्र होते जिनकी मूंछें नहीं हैं। मगर बीजेपी की सरकार बनी है। अगर धूमल जीत जाते तो वह आराम से सीएम बनते। मगर अब किसे यह पद मिलेगा?

केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा की तो मूंछें हैं। जयराम ठाकुर कभी मूंछें रखते हैं कभी क्लीन शेव्ड हो जाते हैं तो कभी हल्की मूंछें रखते हैं। अजय जम्वाल की भी मूंछें हैं। बच गए राजीव बिंदल, जो आजकल क्लीन शेव्ड रहने लगे हैं। शिमला सिटी के विधायत सुरेश भारद्वाज और धर्मपुर के महेंद्र ठाकुर भी क्लीन शेव्ड हैं। पंडित राम स्वरूप शर्मा भी।

फिर कौन सीएम हो सकता है जिसकी मूंछें न हों? कोई क्लीन शेव्ड पुरुष नेता या फिर कोई महिला? वैसे धूमल का नाम अभी भी रेस में है। देखते हैं इस बार ये ट्रेंड टूटेगा या नहीं।

loading...

Leave a Reply