HimachalKangraShimla

हिमाचल में शराबियों के मज़े, सस्ती होगी शराब, लाटरी सिस्टम से बिकेंगे शराब के ठेके

himachali khabar firing-on-liquor-shop-
nn

हिमाचल  में अगले वित्त वर्ष से शराब के दामों में कमी होने की पूरी उम्मीद है। सरकार इस दफा शराब के ठेकों की बिक्री ड्रॉ के माध्यम से करेगी। सरकार ने पुराने सभी प्रावधानों को नई पालिसी में बदल दिया है। यही नहीं, बीयर व शराब की बोतल पर एक व दो रुपए का टैक्स लिया जाएगा और यह राशि एंबुलेंस सेवा को सुदृढ़ करने तथा स्थानीय निकायों को मिलेगा।

loading...

इन बोतलों पर यह राशि अलग से छापी जाएगी। नई आबकारी नीति को सोमवार को कैबिनेट ने मंजूरी दी है जोकि अप्रैल महीने से यहां लागू हो जाएगी। इसमें शराब ठेकेदारों से लेकर निर्माणकर्ता कंपनियों को भी राहत देने की बात कही गई है। उनकी मांग के अनुरूप उनको आबकारी नीति में सहूलियतें दी गई हैं। अब भविष्य में यहां शराब के दाम मिनीमम सेल प्राइज से नहीं बल्कि मैक्सिमम सेल प्राइज से तय किए जाएंगे, जिससे शराब ठेकों पर लूट नहीं मच सकेगी।

पूर्व सरकार ने बीवरेज कारपोरेशन को शराब ठेकेदारों को शराब बेचने का काम सौंपा था, जिसमें बिचौलियों ने अच्छी खासी कमाई की और इसका सारा बोझ लोगों पर पड़ा। सरकार ने पुराने लाइसेंसों को रद्द करके   सालों पुरानी व्यवस्था को लागू किया है जिसके तहत आवेदन आ रहे हैं। जल्दी  ही नई नीति के मुताबिक यहां पर शराब के ठेकों की बिक्री कर दी जाएगी। इस काम को मार्च  के दूसरे सप्ताह तक निपटा दिए जाने की उम्मीद है। इसके साथ लाइसेंसों के नवीनीकरण को लेकर जो मांग ठेकेदारों ने उठाई थी उस पर भी राहत देने की बात आबकारी पालिसी में कही गई है। तथा परिवहन शर्तों में भी छूट दी गई है और साथ ही राज्य के बाहर तैयार की गई वाइन पर आयात शुल्क में बढ़ोतरी की गई है। पूर्व सरकार ने शराब के ठेकों को नीलामी  व टेंडर के माध्यम से बेचा था।

[Total: 0    Average: 0/5]

Leave a Reply