Himachal

hrtc यूनियन प्रबंधन के खिलाफ जाएगी कोर्ट, ठप हो सकती है बस सेवाएं

hrtc
nn
loading...
लंबित मांगे पूरी नहीं होने के चलते hrtc की संयुक्‍त समन्वय समित‌ि में भारी रोष है। निगम प्रबंधन से खफा कर्मचारियों ने अब ऐसा फैसला लिया है जिससे यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ सकती है।

हिमाचल में 22 दिसंबर से एचआरटीसी की बस सेवाएं प्रभावित हो सकती हैं। परिवहन निगम की संयुक्त समन्वय समिति ने एक साथ छुट्टी पर जाने का फैसला लिया है। कर्मचारियों के तीन महीने से साप्ताहिक अवकाश लंबित हैं।

कर्मचारी अवकाश के लिए आवेदन कर रहे हैं लेकिन निगम प्रबंधन की ओर से इन पर आपत्तियां लगाई जा रही हैं। अब कर्मचारियों ने 22 दिसंबर से एक साथ छुट्टी पर जाने का फैसला लिया है।

प्रबंधन के खिलाफ कोर्ट जाएगी यूनियन

एचआरटीसी संयुक्त समन्वय समिति के सचिव राजेंद्र ठाकुर ने बताया कि मोटर एक्ट 1961 में एक महीने में कम से कम तीन से ज्यादा साप्ताहिक नहीं लगाए जा सकते हैं। इन साप्ताहिक अवकाश को एक महीने के भीतर कर्मचारियों को छुट्टी देनी होती है।

लेकिन निगम प्रबंधन ऐसा नहीं कर रहा है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों की यह छुट्टियां लैप्स हो रही है। निगम प्रबंधन अगर कर्मचारियों को आश्वस्त करे कि यह छुट्टियां नई साल में भी ली जा सकती है तो कर्मचारी एक साथ छुट्टी पर नहीं जाएंगे।

अगर निगम प्रबंधन का रवैया ऐसा ही रहा तो कर्मचारी एक साथ छुट्टी पर जाएंगे। कर्मचारी छुुट्टियों के लिए डाक के माध्यम से आवेदन कर रहे हैं। निगम
समिति के सचिव राजेंद्र ठाकुर ने बताया कि निगम प्रबंधन की ओर से कर्मचारियों का उत्पीड़न हो रहा है।

Leave a Reply