Himachal

Suicide : पापा मैं गलत लड़की नहीं हूं… औऱ फिर गले लगा ली मौत

सुन्नी के बसंतपुर में नाबालिग ने जंगल में फंदा लगाकर दी जान

Suicide
nn
loading...

17 साल की मासूम के मन में ऐसी क्या टीस लग गई कि उसने Suicide जैसा कदम उठा लिया। मामला दिल दहला देने वाला है। जानकारी के अनुसार सुन्नी थाना तहत बसंतपुर में एक नाबालिग ने फंदे से लटक कर जान दे दी। बताया जा रहा है कि नाबालिग का शव कदोग गांव से सटे जंगल में पेड़ से लटका मिला।

दुपट्टे का फंदा बनाकर किया Suicide

लड़की ने अपने दुपट्टे का फंदा बनाया और इसमें झूल गई। बहरहाल, नाबालिग ने यह कदम क्यों उठाया, इसके बारे में अभी तक पता नहीं चल पाया है। पुलिस ने शव के पास से सुसाइड नोट बरामद कर लिया है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। पुलिस के मुताबिक 17 वर्षीय मधु पुत्री लाल चद कदोग में अपने छोटे भाई के साथ किराए के मकान में रह रही थी। मधु 12वीं में पढ़ रही थी। उसका परिवार मूल रूप से जम्मू-कश्मीर का रहने वाला था।

OMG! HRTC की Bus में स्कूली छात्रों को छत पर करना पड़ रहा है सफर

मधु के माता-पिता ठेकेदार के पास मजदूरी करते हैं और पिछले दो माह से सोलन के नौणी में मजदूरी कर रहे थे, जबकि मधु और उसका पांचवीं कक्षा में पढ़ने वाला छोटा भाई कदोग में सरकारी स्कूल में पढ़ रहे थे और ये दोनों यहां कदोग गांव में किराए पर रह रहे थे। बताया जा रहा है कि नाबालिग का शव फंदे से लटकता हुआ जंगल में मिला था।

गांव के उपप्रधान ने सुन्नी पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस सूत्रों के मुताबिक नाबालिग ने अपने पिता के नाम पर एक सुसाइड नोट लिखा है और कहा है कि उसकी मौत के लिए कोई जिम्मेदार नहीं है।हालांकि इसमें लिखा गया है कि मैंने कोई गलत काम नहीं किया और न ही मैं गलत लड़की हूं। आप अपनी सोच बदलिए पापा, मैं ऐसी जिंदगी नहीं जी सकती और मौत को गले लगा रही हूं। बहरहाल पुलिस इस मामले की जांच में जुट गई और शव का पोस्टमार्टम करवाया जा रहा है।

Source – abhiabhi

Leave a Reply