India

अपने शहर को साफ रखने का दिजिए आइडिया, मिलेगा 75 हज़ार से 25 लाख तक रुपये, जानिए क्या करना होगा

कम खर्च पर बेहतर तकनीक से कचरा प्रबंधन को प्रोत्साहित करने के लिए स्वच्छ भारत मिशन 2.0 के तहत सभी शहरी निकायों में स्वच्छ तकनीक चैलेंज शुरू किया गया है। इसमें कचरा प्रबंधन के क्षेत्र में काम करने वाले लोग, स्टार्टअप कंपनियों व शैक्षणिक संस्थाओं को प्रोत्साहित किया जाएगा। इस चैलेंज के तहत उनसे तकनीक आधारित कचरा प्रबंधन पर आइडिया मांगे जा रहे हैं, जिनमें से बेहतरीन आइडिया को राष्ट्रीय स्तर पर भेजा जाएगा।

चैलेंज में राष्ट्रीय स्तर पर अंतिम रूप से चयनित 10 बेहतर आइडिया को 25-25 लाख रुपये की सीड फंडिंग मिलेगा। इसके साथ ही फ्रेंच टेक से एक साल का इन्क्यूबेशन सपोर्ट भी मिलेगा। वहीं राज्य स्तर पर चुनी जाने वाली पांच इंट्री को भी स्वच्छ भारत मिशन के तहत सहायता प्रदान की जाएगी। पहले स्थान पर आने वाले को पांच लाख, दूसरे स्थान को ढाई लाख, तीसरे स्थान को डेढ़ लाख, चौथे को एक लाख और पांचवें को 75 हजार रुपये दिए जाएंगे।

30 दिसंबर तक भेजनी है इंट्री

नगर विकास एवं आवास विभाग ने राज्य के सभी शहरी निकायों से 30 दिसंबर तक इंट्री मांगी है। प्रत्येक शहरी निकायों को दो-दो इनोवेटिव आइडिया विभाग को भेजना है। सभी निकायों से मिले इनोवेटिव आइडिया में से सबसे बेहतरीन तीन आइडिया राज्य स्तर पर चयनित होगी, जिसे केंद्र को भेजा जाएगा। सभी राज्यों से मिलने वाले टॉप तीन समाधानों को मिला कर 15 जनवरी से स्वच्छता स्टार्ट अप चैलेंज 2022 शुरू होगा।
शहरी निकायों में स्वच्छ तकनीक चैलेंज, मिलेगा इनाम
25-25 लाख रुपये मिलेंगे राष्ट्रीय स्तर पर चुने गए सर्वश्रेष्ठ 10 आइडिया को
05 इंट्री चुनी जाएगी राज्य स्तर पर, 75 हजार से पांच लाख का मिलेगा इनाम

साफ-सफाई के कार्यों के लिए इन विषयों पर दे सकते हैं आइडिया
कचरा का बेहतर कलेक्शन और उनका प्रबंधन।
सेप्टिक टैंक और सीवर लाइन की कम लागत में सफाई।
सेप्टिक टैंक और सीवर लाइन के ओवरफ्लो की जांच के लिए डिजिटल समाधान।
पब्लिक शौचालयों का उचित रख-रखाव।
डोर टू डोर कलेक्शन में कचरा को अलग करने में नया प्रयोग।
सिंगल यूज प्लास्टिक के विकल्प।
मल्टी लेयर प्लास्टिक का संग्रह और निष्पादन। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Leave a Reply