Ajab GazabIndia

खाने से पहले या बाद में कब पीनी चाहिए शराब, ज्यादातर लोग नहीं जानते.

खाने से पहले या बाद में कब पीनी चाहिए शराब, ज्यादातर लोग नहीं जानते.

ये बात सभी जानते हैं कि शराब सेहत के लिए हानिकारक होती है। लेकिन फिर भी दुनिया में पीने वालों की संख्या में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। शराब पीने से शरीर को कई तरह के नुकसान होते हैं। हां, अगर आपको शराब पीने का सही तरीका पता है तो इससे होने वाले नुकसान काफी हद तक कम हो सकते हैं। ज्यादातर लोगों को इस बात की जानकारी नहीं होती है कि शराब खाना खाने से पहले पिएं या बाद में। आइए नीचे खबर में जानते हैं –

खाने से पहले या बाद में कब पीनी चाहिए शराब, ज्यादातर लोग नहीं जानते.

 शराब (Liquor) सेहत के लिए अच्छी नहीं और हम सभी इससे सेहत को होने वाले नुकसान के बारे में जानते हैं लेकिन फिर भी यह काफी हद तक दुनिया भर में अधिकांश लोगों की लाइफस्टाइल का हिस्सा बन चुकी है. शादी, पार्टी, डिनर और नाइट आउट जैसे कई मौकों पर लोग शराब का सेवन करते हैं।

अव्वल तो शराब पीना ही ठीक (sharab peene ka sahi tarika ) नहीं लेकिन अगर आप पी रहे हैं तो कोशिश करनी चाहिए कि आपकी सेहत को इससे कम से कम नुकसान हों. यहां हम आपको बताएंगे कि किस तरह आप शराब से होने वाले नुकसान को कम कर सकते हैं और ड्रिंक से पहले कुछ खाना सही है या नहीं।

कैसे दिल और दिमाग पर छाती है शराब

जब हम शराब (sharab) का पहला घूंट पीते हैं तो वह सबसे पहले पेट तक पहुंचती है. अगर हमने शराब पीने से ठीक पहले कुछ खाया है तो पेट पचाने की प्रक्रिया में पहले से ही उस भोजन को तोड़ने के काम में व्यस्त होता है. इसका नतीजा यह होता है कि शराब तेजी से शरीर में अवशोषित नहीं होती है।

खाली पेट और भरे पेट पर शराब का होता है ऐसा असर

पेट शराब को अवशोषित करता है लेकिन छोटी आंत (स्माल इंटेस्टाइन) की तुलना में धीमी गति से. इससे यह होता है कि अगर हमने कुछ खाया नहीं है तो शराब पेट से होकर तेजी से छोटी आंत तक पहुंच जाती है और ऐसे में वो तेजी से खून में मिल जाती है।

खून में मिलने के बाद शराब दिल और दिमाग तक पहुंच जाती है जिससे जल्दी नशा होने लगता है. अगर आप खाली पेट शराब पीते हैं तो शराब को छोटी आंत तक पहुंचने में ज्यादा समय नहीं लगता और वो तेजी से नशा देती है. खाली पेट शराब पीने से शराब का प्रभाव बढ़ जाता है. वो तेजी से एब्जॉर्ब होती है और नशा भी तेजी से बढ़ाती है. इसलिए खाने से पहले शराब का सेवन अलग तरह से असर करता है।

वहीं, भोजन शराब के सामने एक सुरक्षात्मक दीवार का किरदार अदा करता है जो छोटी आंत में शराब के अवशोषण को धीमा कर देता है. अवशोषण प्रक्रिया में देरी कर भोजन प्रभावी ढंग से खून में अल्कोहल की तेजी से मिलने की प्रक्रिया को कम करता है. इसका मतलब यह है कि अगर आप शराब पीने से पहले भोजन करते हैं तो आप पर तुरंत नशा नहीं चढ़ता है।

शराब और भोजन में संतुलन जरूरी

शराब के अवशोषण पर भोजन का क्या प्रभाव होता है, यह समझने के साथ ही उसमें संतुलन बनाना भी उतना ही महत्वपूर्ण है. खाली पेट शराब पीने से नशा जल्दी और तेज हो सकता है जबकि शराब से पहले भोजन करने से आपको इसके प्रभाव को धीमा करने में मदद मिल सकती है. अगर भोजन और शराब के बीच संतुलन बना पाते हैं तो आप सही तरीके से ड्रिंकिंग कर पाएंगे।

लेकिन अगर आप स्वास्थ्य विशेषज्ञों की राय मानना चाहते हैं तो पीने से पहले कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन से भरपूर हल्का भोजन और शराब के साथ लाइट स्नैक्स खाएं, यह तरीका आपको अगले दिन होने वाले हैंगओवर से बचने में भी मदद करेगा।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply