Ajab Gazab

दरभंगा एयरपोर्ट से अब अधिक समय तक विमानों का होगा परिचालन, जानिए कितना घंटे!..

बिहार से विमान यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा संबंधित मामलों एवं एयरपोर्ट की सुरक्षा में लगे कर्मियों को प्रशिक्षण देने के लिए ही बीसीएएस (नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो) की शाखा पटना में शुरू की गई। बीसीएएस की ओर से अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस पर विशेष पहल करते हुए दरभंगा एयरपोर्ट पर फ्लाइट आवर बढ़ाने का अनुरोध नागरिक उड्डयन मंत्रालय से किया गया था। उसकी सहमति मिल चुकी है। अब अब शीघ्र ही दरभंगा से आठ घंटे तक विमानों का परिचालन किया जाएगा। बीसीएएस के संयुक्त निदेशक सह क्षेत्रीय निदेशक अभिमन्यु कुमार सिंह ने बताया कि 1996 से सात दिसंबर को हर साल अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस मनाया जाता है।

दरभंगा एयरपोर्ट पर तैनात जवानों को दिया जा रहा प्रशिक्षण

क्षेत्रीय निदेशक ने बताया कि बीसीएएस पटना, गया व दरभंगा एयरपोर्ट की सुरक्षा से संबंधित मामलों की देखरेख करती है। पटना व गया एयरपोर्ट की सुरक्षा की जिम्मेदारी सीआइएसएफ और दरभंगा एयरपोर्ट के सुरक्षा की जिम्मेदारी बीएसएपी 13 को दिया गया है। समय-समय पर बीसीएएस की ओर से सीआइएसएफ व बीएसएपी 13 के सुरक्षाकर्मियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। बीसीएएस की ओर से अभी दरभंगा एयरपोर्ट पर तैनात बीएसएपी के जवानों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। दरभंगा एयरपोर्ट से अभी प्रतिदिन लगभग ढाई हजार यात्री प्रतिदिन आते-जाते हैं। पिछले एक साल में यहां पांच लाख से अधिक यात्री आए-गए हैं। बिहार में विमानन उद्योग में अपार संभावनाएं हैं। ऐसे में बीसीएएस की भूमिका बढ़ जाती है।

पटना एयरपोर्ट पर यात्रियों की सुविधाओं में होगी वृद्धि

क्षेत्रीय निदेशक ने कहा कि जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन का निर्माण कार्य पूरा होने के बाद यहां यात्री सुविधाओं में काफी इजाफा होगा। निर्माण कार्य तेजी पर है और 2023 तक इसके पूरा होने की संभावना है। अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस पर उन्होंने सभी विमान यात्रियों के उज्जवल भविष्य की कामना की है। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Leave a Reply