सोने का अभाव: वर्तमान समय में हम सभी की एक आम समस्या है और वह है अनिद्रा। हम सभी का जीवन इन दिनों व्यस्त और तेज गति वाला है। हम सुबह कितनी भी जल्दी क्यों न उठ जाएं, दिन भर के तनाव और काम के कारण हमारी जीवनशैली बहुत खराब (अस्वास्थ्यकर जीवनशैली) हो गई है। इसलिए हमें अक्सर कम नींद और उसके परिणामों से जूझना पड़ता है। इससे हमारी सेहत भी खराब होती है। अगर हम पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो इसका हमारे स्वास्थ्य पर गंभीर प्रभाव पड़ता है, इसलिए हमारा दिन काम के कारण पूरा नहीं होता है, लेकिन साथ ही नींद की कमी के कारण हमारा अगला दिन भी बहुत खराब होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि आपकी उम्र के साथ आपकी नींद का गणित भी बदलता है। फिलहाल एक शोध में यह बात सामने आई है कि एक निश्चित उम्र के बाद इस बात की संभावना होती है कि हमारी नींद कम होने लगेगी। तो आइए जानते हैं आखिर क्या कहती है रिसर्च।

यह समझा जाता है कि इंग्लैंड में अधिक लोगों ने नींद की कमी की शिकायत की है। औसतन, इंग्लैंड में लोग दुनिया के बाकी हिस्सों की तुलना में कम सोते हैं। यह भी ज्ञात है कि पुरुषों के लिए औसत नींद 7 घंटे जबकि महिलाओं के लिए 7.5 घंटे होती है।
किस उम्र में नींद कम आती है?

यह शोध 63 देशों में किया गया था। जिसमें 8 लाख लोगों ने हिस्सा लिया। इसमें पाया गया कि 33 साल की उम्र के बाद लोगों की नींद कम हो जाती है जबकि 53 साल की उम्र के बाद उनकी नींद बढ़ जाती है। इसका मुख्य कारण यह है कि युवाओं, जिम्मेदारियों और पालन-पोषण में काम के तनाव के कारण नींद कम आती है।

कहां किया शोध?

बताया गया है कि ईस्ट एंग्लिया विश्वविद्यालय और ल्योन विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने नींद और हमारी उम्र के बीच संबंध का अध्ययन किया है। किस आयु वर्ग को अच्छी नींद आती है, इस विषय पर वैज्ञानिक शोध भी हुए हैं। नेचर कम्युनिकेशंस में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक, अधेड़ उम्र के लोगों को नींद की समस्या कम हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *