Ajab Gazab

बम्ब की तरह फटेगा AC, गर्मियों में ऑन करने से पहले जान लें ये बातें

AC Blast Reasons : अगर आप AC यूज करते हैं तो आपको सावधान जरूर बर्तनी चाहिए नहीं तो आपके साथ हादसा हो सकता है। अगर आपका AC ये सिगनल देने लगे तो समझ लें आपके एसी में गड़बड़ है। आइए खबर में जानते है की गर्मियों में AC चलाने से पहले आपको किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

गर्मियों में हर कोई ठंडक पाने के लिए बेचैन रहता है। इसलिए हम देखते हैं कि गर्मी आते ही एयर कंडीशनर (AC) की डिमांड काफी बढ़ जाती है। हालांकि, एसी भी एक इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट (electronic products) है, और इसमें आग लगने का खतरा हमेशा बना रहता है। एसी में धमाका काफी जानलेवा हो सकता है। कुछ रिपोर्ट्स के मुताबिक ऐसे हादसों में कई लोगों की जान भी गई है। एसी में आग तो लग जाती है, लेकिन ये जरूरी नहीं कि तुरंत धमाका हो जाए। हालांकि, एहतियात बरतना बेहद जरूरी है।

एयर कंडीशनर का इस्तेमाल(use of air conditioner) काफी सावधानी के साथ करना चाहिए। इंडिया जैसे देशों में एयर कंडीशनर का चलन (air conditioner trend) काफी बढ़ रहा है। इसलिए इनमें धमाका होने का खतरा भी बढ़ रहा है। अगर आपके घर में भी एसी तो कुछ बातों का ख्याल रखें। इससे ना केवल आपके एसी परफॉर्मेंस बढ़िया रहेगी, बल्कि आपकी सेफ्टी में पुख्ता होगी।

एसी में ब्लास्ट होने के कुछ कारण हो सकते हैं, जिनकी जानकारी हम नीचे बता रहे हैं।

  • पुराने और घटिया किस्म के एसी का इस्तेमाल करना।
  • कंप्रेसर में गंदगी का होना। इससे कंप्रेसर जाम हो सकता है।
  • कमरे के साइज के हिसाब से एसी की कैपेसिटी का ना होना।
  • एसी से गैस लीक होना या कमरे या एसी के अंदर जाम होना।
  • अगर एसी लंबे समय तक लगातार चलता है तो एसी पर दबाव बढ़ जाएगा। इससे वो गर्म हो जाएगा और शॉर्ट सर्किट भी हो सकता है।
  • बिजली के हाई वोल्टेज इलेक्ट्रॉनिक प्रोडक्ट्स पर दबाव बढ़ाते हैं।
  • लंबे समय से एसी की सर्विस का ना होना।
  • बिजली कड़कने या बारिश के दौरान एसी चलाना। अर्थिंग सिस्टम के खराब होने पर एसी में ब्लास्ट भी हो सकता है।

AC में धमाका होने से कैसे बचें?

एसी में ब्लास्ट होने जैसी घटनाओं से बचने के लिए इन बातों का ख्याल रखना चाहिए।

  • प्रोफेशनल से एसी कीि रेगुलर सर्विस कराएं।
  • कमरे के साइज के हिसाब से सही कैपेसिटी का एसी लगवाएं।
  • टॉप और विश्वसनीय ब्रांड का एसी खरीदें।

लगातार एसी ना चलाएं और बीच-बीच में ब्रेक लेते रहें।
बिजली के कनेक्शन, सॉकेट और फिल्टर की नियमित जांच करें।
हाई वोल्टेज से बचने के लिए घर में सर्किट ब्रेकर का इस्तेमाल करें।
बारिश और गरज के दौरान एसी का इस्तेमाल बंद कर दें। इसके अलावा घर की छत पर थंडर प्रोटेक्शन सिस्टम लगाना चाहिए। एसी को एक बार में आठ घंटे से ज्यादा इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसके अलावा, बाहरी मशीन को ऐसी जगह पर रखना चाहिए, जहां हवा आती रहे।
ये खबरें भी पढ़ें – सट्टा बाजार ने घटाई BJP की सीटें-देंखे राज्यवार आंकडे
कैंसर की पहली स्टेज में शरीर में दिखाई देते हैं ये 8 बदलाव, जरूर जानें

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply