Ajab GazabIndia

बारिश हुई तो नीम के पेड़ के नीचे छिप गए लोग, वज्रपात में एक साथ 12 झुलसे, 2 घटनाओं में 2 की मौत

बारिश हुई तो नीम के पेड़ के नीचे छिप गए लोग, वज्रपात में एक साथ 12 झुलसे, 2 घटनाओं में 2 की मौत


गया: बिहार के कई क्षेत्रों में मौसम में अचानक बदलाव हुआ और तेज हवा के साथ बारिश भी हुई. इस दौरान गया जिले में मंगलवार की रात तेज आंधी और बारिश होने के साथ कई जगहों पर वज्रपात भी हुआ और इसमें 12 से भी अधिक लोग झुलस गए. इन घटनाओं में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई. लोगों के झुलसने मामला गया जिले के फतेहपुर प्रखंड के सलैया पंचायत के गुड़ीसर्वे गांव का है. यहां एक व्यक्ति की मौत भी हो गई, जबकि मोहनपुर प्रखंड में भी वज्रपात में एक की मौत हुई है.

बता दें कि गया जिले के फतेहपुर प्रखंड के गुड़ी सर्वे गांव में साप्ताहिक बाजार लगी हुई थी. इस दौरान तेज आंधी और बारिश शुरू हुई और देखते ही देखते आसमान में तेज बिजली कड़कने लगी. वर्षा होने से पहले लोग एक नीम के पेड़ के नीचे लोग छुप गए थे, लेकिन इसी जगह पर वज्रपात हो गया और एक साथ 12 से ज्यादा लोग झुलस गए. इसके बाद सभी को आनन-फानन में फतेहपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया गया. मृतक में डांगरा के रहने वाले 45 वर्षीय विश्वनाथ यादव की मौत हुई है, जबकि बारा बैदा गांव के रहने वाली 50 वर्षीय सरोज देवी की मौत हो गई.

वहीं, घटना की सूचना मिलते ही फतेहपुर थाना के पुलिस अपने दलबल के साथ पहुंची. साथ ही स्थानीय सीओ और बीडीओ भी मौके पर पहुंचकर घटना की पूरी जानकारी ली और सभी घायलों का इलाज सही ढंग से करवाये जाने को लेकर संबंधित अधिकारियों व डॉक्टरों को निर्देश दिये.

घटना के बाद डीएम डॉक्टर त्याग राजन एसएम ने सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया है कि सभी घायलों को बेहतर चिकित्सीय सुविधा दी जाए. साथ ही 24 घंटे के अंदर मृतकों के परिवारवालों को आपदा मुआवजा की राशि देना सुनिश्चित किया जाए. वहीं, डीएम ने भी इस घटना को लेकर दुख जताया है और परिवार वालों को सांत्वना दी. बड़े कालेज की लड़कियां कुछ इस तरह से करती हैं देह-व्यापार

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply