India

बिहार के इन जिलों में आज से दिखेगा तूफ़ान जवाद का असर, जानिए अपने शहर का हाल

चक्रवाती तूफान ‘जवाद’ देश के पूर्वी हिस्‍से में बड़े पैमाने पर मौसम में बदलाव की वजह बनने वाला है। बंगाल की खाड़ी से उठा ये तूफान पश्चिम बंगाल में काफी तो झारखंड में भी अच्‍छा असर दिखाते हुए बिहार तक अपना प्रभाव छोड़ेगा। पटना के मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार बिहार में चक्रवाती तूफान ‘जवाद’ का आंशिक असर दिखेगा। इससे प्रदेश में ठंड का असर बढ़ने की संभावना है।

बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र

बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। इस बदलाव के पीछे तूफान के ओडिशा तट से टकराने की आशंका जताई जा रही है। इसके प्रभाव से रविवार को प्रदेश के पूर्वी हिस्सों के एक या दो स्थानों पर हल्की बूंदाबांदी और अन्य हिस्सों में बादल छाए रहने के आसार हैं। चक्रवाती तूफान गुजरने के बाद उत्तर पश्चिमी हवा का प्रभाव बनने से सुबह और शाम कनकनी बढ़ सकती है। मौसम विज्ञानी की मानें तो तूफान का असर खास नहीं होगा। मौसम में थोड़ा बदलाव देखने को मिलेगा।

मौसम में थोड़ा बदलाव देखने को मिलेगा, होगी कहीं-कहीं हल्की बारिश दो दिन बाद सुबह-शाम बढ़ेगी कनकनी, औरंगाबाद सबसे ठंडा शहर आठ सौ मीटर दर्ज की गई पटना में दृश्यता, पटना, पूर्णिया व गया में धुंध.

मौसम में थोड़ा बदलाव देखने को मिलेगा, होगी कहीं-कहीं हल्की बारिश दो दिन बाद सुबह-शाम बढ़ेगी कनकनी, औरंगाबाद सबसे ठंडा शहर आठ सौ मीटर दर्ज की गई पटना में दृश्यता, पटना, पूर्णिया व गया में धुंध

मौसम विभाग के अनुसार, मौसम शुष्क रहने के साथ सुबह पटना, गया, पूर्णिया में हल्की धुंध छाई रही। सबसे कम दृश्यता आठ सौ मीटर पटना में दर्ज की गई। अगले दो दिनों तक प्रदेश का मौसम शुष्क रहने के साथ रात के तापमान में एक-दो डिग्री की वृद्धि देखी जा सकती है। दक्षिण बिहार का न्यूनतम तापमान 12 से 14 तो उत्तरी हिस्से का 14 से 16 डिग्री सेल्सियस के बीच दर्ज किया गया। वहीं, 11.6 डिग्री सेल्सियस के साथ औरंगाबाद प्रदेश का सबसे ठंडा शहर रहा। प्रदेश में इन दिनों पूर्वी एवं उत्तर पूर्वी हवा समुद्र तल से 1.5 किमी तक फैला है। इनके प्रभाव से प्रदेश में आंशिक रूप से बादल छाए रहने का पूर्वानुमान है इन्हे भी जरूर पढ़ें

Leave a Reply