Kangra

बिहार के इन दो जिलों के लिए अच्छी खबर : लगाए जाएंगे इथेनॉल और सॉफ्ट ड्रिंक की फैक्ट्री!!

 

बिहार में रोजगार को बढ़ावा देना के लिए राज्य सरकार अलग-अलग जिलों में लगातार निवेश कर रही है. कई जिलों में उद्योग, फैक्ट्री, कारखाने खोलने को लेकर काम भी किया जा रहा है. इसी क्रम में बिहार के आरा और बेगूसराय जिले में राज्य ने बड़ी फैक्ट्री लगाने की योजना बनाई है. दरअसल, मंगलवार को वाल्मीकिनगर में हुई सीएम नीतीश कुमार कैबिनेट की बैठक में 13 एजेंडों पर मुहर लगी. इसी के अंतर्गत आरा में इथेनॉल और बेगूसराय के बरौनी में सॉफ्ट ड्रिंक की फैक्ट्री लगाने के लिए 447 करोड़ के निवेश को मंजूरी मिल गयी है.

मिली जानकरी के अनुसार राज्य सरकार आरा में सॉफ्ट ड्रिंक फैक्ट्री खोलने के लिए 278 करोड़ 85 लाख और बरौनी में इथेनॉल फैक्ट्री के 168 करोड़ 42 लाख का निवेश करेगी, ताकि इन दोनों इलाकों में रोजगार के अधिक से अधिक अवसर मिल सके. बताया जाता है कि बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नियमावली 2016 के तहत इन दोनों निवेश के लिए मंजूरी मिली है.

जानिए कितना होगा उत्पादन

बता दें, वाल्मीकिनगर में हुई कैबिनेट की बैठक में उद्योग-धंधे के विकास को लेकर लिए गए ये दोनों निर्णय काफी महत्वपूर्ण माने जा रहे हैं. इस निवेश के बाद बिहार के आरा में प्रतिदिन 400 किलोलीटर इथेनॉल का उत्पादन हो सकेगा. साथ ही मवेशी चारा व पावर प्लांट भी बनेगा. वहीं बेगूसराय के बरौनी में हर साल एक करोड़ 20 लाख पेटी सॉफ्ट ड्रिंक, 94 लाख पेटी फ्रूट जूस और 86 करोड़ पेटी पेयजल तैयार किया जाएगा. बताया जा रहा है कि बिहार में इथेनॉल फैक्ट्री लगाने की जिम्मेदारी सर्स बिहार डिस्टीलिटरिज एंड बॉटल प्राइवेट लिमिटेड को दिया गया है. वहीं सॉफ्ट ड्रिंक फैक्ट्री का काम मेसर्स वारुण बेवरेज लि. इंडस्ट्रियल ग्रोथ सेंटर को मिला है.

कैबिनेट में 13 एजेंडों पर लगी है मुहर

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को इस साल की कैबिनेट की आखिरी बैठक वाल्मीकिनगर में संपन्न हुई. मंत्रीपरिषद की इस बैठक में कुल 13 एजेंडों पर मुहर लगी है. कैबिनेट की बैठक में सरकार ने राजधानी पटना में बापू टावर के निर्माण और ऑडियो विजुअल सिस्टम की योजना के लिए 44 करोड़ 86 लाख रुपए की प्रशासनिक स्वीकृति दी है. वहीं इसके अलावा राज्य सरकार ने शिक्षा विभाग के अंतर्गत माध्यमिक विद्यालयों को भवन मुहैया कराने के लिए पंचायत स्तर पर पहले चरण में कुल 677 उच्च माध्यमिक स्कूलों को उत्क्रमित करने का फैसला लिया है. इन्हे भी जरूर पढ़ें

Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Leave a Reply