Ajab Gazab

बिहार के इस ज़िला में 12 गंगा घाटों का बदलेगा सूरत, मरीन ड्राइव के तर्ज पर बनेगा रिवर फ्रंट!..

योगनगरी(मुंगेर) के लोग आने वाले दिनों में गंगा की स्वच्छ हवाओं के बीच सुबह-शाम सैर कर सकेंगे। भागदौड़ में व्यस्त जीवन के बीच इन जगहों पर जाकर लोग सुकून के दो पल व्यतीत कर सकेंगे। केंद्र सरकार की ओर से चलाए जा रहे नमामी गंगे योजना से शहरी क्षेत्र के 12 गंगा घाटों पर मुंबई के मरीन ड्राइव की तर्ज पर रिवर फ्रंट का निमार्ण होगा।

-मुंगेर शहरी क्षेत्र के 12 गंगा घाटों पर बनना है रिवर फ्रंट

-गंगा स्वच्छता के लिए नमामी गंगे योजना से होगा इसका निर्माण

-दो सप्ताह पूर्व केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने जिलाधिकारी से ली जानकारी

हालांकि, इस योजना के तहत गंगा घाटों के सौन्दर्यीकरण का काम शुरू हो चुका है और बबुआ घाट व दोमठा घाट पर सीढ़ी निर्माण के साथ ही इन घाटों के एप्रोच पथ को दुरुस्त किया गया है। लेकिन तकनीकी कारणों से योजना को अभी विराम दिया गया है। सूत्रों की माने तो फिर से इसके लिए प्रशासनिक कवायदें शुरू हो चुकी है। दरअसल, चार दिसंबर को मुंगेर आगमन पर भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने इस योजना को लेकर जिला प्रशासन की ओर से किए जा रहे कवायद की जानकारी डीएम से ली और इस काम में गति लाने का निर्देश दिया था। गौरतलब है कि

सूबे की राजधानी पटना के बाद मुंगेर में भी रिवर फ्रंट का निर्माण होगा। योजना के तहत शहर के 12 गंगा घाटों का चयन किया गया है। रिवर फ्रंट योजना के तहत गंगा घाट के करीब पैदल पथ व खूबसूरत पार्क बनाए जाएंगे। योजना के प्रथम चरण में शहर के गंगा घाटों को एक-दूसरे से जोड़ा जाएगा। घाट किनारे ट्रैक का विस्तार होगा। इसमें शहर के अलावा गांव के घाटों को भी जोड़ा जाएगा ।

रिवर फ्रंट की में क्या होगी विशेषता

– गंगा नदी के किनारों पर हरियाली के साथ-साथ वाङ्क्षकग ट्रैक का निर्माण

– यहां घूमने आने वालों के बैठने के लिए बैंच लगाई जाएगी।

– नदी किनारे पौधरोपण की जाएगी।

– पर्यावरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से हरियाली विकसित की जाएगी।

– वाङ्क्षकग ट्रैक के किनारे लाइटें लगाई जाएंगी।

– पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लेजर और वाटर स्क्रीन शो होगा।

– फूड, क्योस्क, क्रिमिटेरिया, रोशनी व एप्रोच पथ का निर्माण होगा। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Shimla, Mandi, Kangra, Chamba, बिहार, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, कानपुर, दरभंगा, समस्तीपुर, नालंदा, पटना, मुजफ्फरपुर, जहानाबाद, पटना, नालंदा, अररिया, अरवल, औरंगाबाद, कटिहार, किशनगंज, कैमूर, खगड़िया, गया, गोपालगंज, जमुई, जहानाबाद, नवादा, पश्चिम चंपारण, पूर्णिया, पूर्वी चंपारण, बक्सर, बांका, बेगूसराय, भागलपुर, भोजपुर, मधुबनी, मधेपुरा, मुंगेर, रोहतास, लखीसराय, वैशाली, शिवहर, शेखपुरा, समस्तीपुर, सहरसा, सारण सीतामढ़ी, सीवान, सुपौल, #बिहार, #मुजफ्फरपुर, #पूर्वी चंपारण, #कानपुर, #दरभंगा, #समस्तीपुर, #नालंदा, #पटना, #मुजफ्फरपुर, #जहानाबाद, #पटना, #नालंदा, #अररिया, #अरवल, #औरंगाबाद, #कटिहार, #किशनगंज, #कैमूर, #खगड़िया, #गया, #गोपालगंज, #जमुई, #जहानाबाद, #नवादा, #पश्चिम चंपारण, #पूर्णिया, #पूर्वी चंपारण, #बक्सर, #बांका, #बेगूसराय, #भागलपुर, #भोजपुर, #मधुबनी, #मधेपुरा, #मुंगेर, #रोहतास, #लखीसराय, #वैशाली, #शिवहर, #शेखपुरा, #समस्तीपुर, #सहरसा, #सारण #सीतामढ़ी, #सीवान, #सुपौल,

Leave a Reply