Ajab Gazab

बिहार के मखाना को जल्द मिलेगी ग्लोबल पहचान, जीआई टैग मिलने का रास्ता हुआ साफ..

बिहार (Bihar) के लोगो के लिए यह एक जरूरी खबर की बिहार के मखाना (Prickly Water Lily) को जल्द ही ग्लोबल पहचान मिलेगी। बिहार के मखाना को देश और विश्व में मिथिला मखाना के नाम से जाना जाएगा. इस बात की जानकारी कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने गुरुवार को विधान परिषद में दी. कांग्रेस एमएलसी प्रेमचंद मिश्रा के ध्यानाकर्षण में सरकार की तरफ से व्यक्तव्य देते हुए कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि मिथिला मखाना को जल्द ही जीआई टैग भी मिल जाएगा. बता दे की इस बैठक में आवेदक के दावों पर सत्यता की मुहर लग गई।

केंद्र के अधिकारियों ने उत्पादक से की बात

आपको बता दे की दिल्ली से आये कंसल्टेटिंग समूह के अधिकारियों ने जीआई टैग के लिए आवेदन करने वाले मिथिलांचल मखाना (Prickly Water Lily) उत्पादक समूह को भी बुलाया गया था। बता दे की आवेदक ने इसके उत्पादन के इतिहास की जानकारी देकर बताया कि यह बिहार का ही उत्पाद है। इसके इतिहास से जुड़े प्रमाण भी प्रस्तुत किये गये। साथ ही इसकी विलक्षणता से भी अधिकारियों को अवगत कराया। बताया जा रहा है की अधिकारी पूरी तरह संतुष्ट होकर गये।

टैग मिलने पर कहीं से होगी मार्केटिंग

बिहार के मखाना को जीआई टैग मिलने के बाद विश्व में कोई कहीं मार्केटिंग करेगा तो वह बिहार के मखाना (Prickly Water Lily) के नाम से जाना जाएगा दूसरे किसी भी देश और राज्य का दावा इस कृषि उत्पाद पर नहीं हो सकता। इसी के साथ बिहार के मखाना (Prickly Water Lily) उत्पादकों को नया बाजार मिल जाएगा और उनकी आमदनी बढ़ेगी। साथ ही बिहार में इसकी खेती भी बढ़ेगी। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Leave a Reply