Himachal

बिहार के मुजफ्फरपुर में बड़ा कांड, 65 लोगों ने आखों का आपरेशन करवाया, सबके सब अंधे हो गए ..

 

PATNA : मुजफ्फरपुर : 1 दिन में ही माेतियाबिंद की 65 सर्जरी हुई, सभी की राेशनी गई, खुलासा : ऑपरेशन के लिए 27 को छिपा कर रखा था, जूरन छपरा के अाई हाॅस्पिटल का अाॅपरेशन थिएटर सील, कांट्रेक्ट पर आया था डॉक्टर, डॉक्टर का रजिस्ट्रेशन रद्द करने काे एमसीआई से होगी अनुशंसा, साजिश : डॉक्टर ने पहले एक भी सर्जरी नहीं की, अाॅपरेशन थिएटर से संक्रमण फैलने की अाशंका

जूरन छपरा रोड-2 के आई हॉस्पिटल में मोतियाबिंद के नि:शुल्क ऑपरेशन के नाम पर मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ हो है। अस्पताल में सर्जन नहीं होने के बाद भी ऑपरेशन का मामला सामने आया है। 22 नवंबर को जिस डॉक्टर ने 65 लोगों के माेतियाबिंद का अाॅपरेशन किया वह डाॅ. डाॅ. एनडी साहू काॅन्ट्रैक्ट पर अाए थे। क्याेंकि, पैनलिस्ट डॉ अमित और डॉ प्रवीण 2 माह पहले ही अस्पताल में सेवा देनी बंद कर चुके हैं। एक ही दिन में डॉ. साहू ने 65 मरीजाें की सर्जरी की। यह एमसीआई और सुप्रीम कोर्ट के मानक का उल्लंघन है। नतीजा सभी 65 लोगों की आंख की रोशनी चली गई। इन्फेक्शन के कारण अब तक 12 की अांख निकाली जा चुकी है। अन्य 7 लोगों की आंख एसकेएमसीएच में बुधवार को निकाली जाएगी।

सबसे चाैंकाने वाला पहलू यह है कि जिस डाॅ. साहू ने एक दिन में 65 सर्जरी की, उन्हाेंने पहले अाई हाॅस्पिटल में एक दिन भी सर्जरी नहीं की। जांच टीम ने अस्पताल प्रबंधन से पूछा कि एेसा कैसे हाे सकता है कि 22 नवंबर के पहले डॉ साहू ने एक भी ऑपरेशन नहीं किया। फिर घटना के दिन से ही वह 27 नवंबर तक लगातार ऑपरेशन कैसे करते रहे? टीम को आशंका है कि अस्पताल प्रबंधन ने मामले काे दबाने के लिए फर्जीवाड़ा किया हाे।

मंगलवार काे स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अस्पताल के सचिव और ऑपरेशन करने वाले डाॅ. एनडी साहू से पूछताछ की। इन्हाेंने टीम काे संताेषजनक जवाब नहीं दिया। टीम ने आई हॉस्पिटल का ऑपरेशन थिएटर सील कर दिया और फिलहाल सर्जरी पर रोक लगा दी है। ऑपरेशन थिएटर से रिंगर लैक्टेट, इंस्ट्रूमेंट्स और स्वैब का सैंपल लिया। शक है कि ऑपरेशन थिएटर में रिंगर लैक्टेट चढ़ाने के दौरान इंफेक्शन फैला।

जांच टीम ने पूछा है कि किस स्थिति में मानक को ताक पर रख कर एक दिन में 65 लोगों का ऑपरेशन किया गया। अब ऑपरेशन करने वाले चिकित्सक का रजिस्ट्रेशन रद्द करने के लिए एमसीआई से अनुशंसा की जाएगी। सर्जरी करने वाले डाॅ. एनडी साहू ने दैनिक भास्कर के सवाल पर पहले मैनेजमेंट से पूछने की बात कही। बार-बार पूछने पर उन्हाेंने अाॅपरेशन करने की बात ताे मानी, लेकिन इन्फेक्शन के लिए वजहें भी गिनाईं। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Leave a Reply