Ajab GazabDharamIndia

भूलकर भी इन जगहों पर न लगाएं पितरों की तस्वीर, वरना भुगतना पड सकता है ये नुकसान

भूलकर भी इन जगहों पर न लगाएं पितरों की तस्वीर, वरना भुगतना पड सकता है ये नुकसान

आपने देखा होगा कि अक्सर घर में लोग अपने पितरों की तस्वीर जरुर लगाते है। कहा जाता है उनकी तस्वीर घर में रखने से परिवार पर उनकी कृपा बनी रहती है। पूर्वजों को सम्मान को देने के लिए पहले घरों में पितरों की तस्वीरें लगाई जाती थी। जिससे हमारे अपने पूर्वजों के चित्रों के माध्यम से उन्हें बताते थे। लेकिन आजकल के आधुनिक युग में हम ये सभी भूलते जा रहे है।

क्या घर में पितरों की फोटो लगानी चाहिए: पंडित दयानंद शास्त्री बताते है कि किसी भी घर में पूर्वजों के चित्र सदा नैर्ऋत्य दिशा में लगाएं। ऐसे चित्र देवताओं के चित्रों के साथ न सजाएं। तस्वीर लगाते समय कुछ सावधानियाँ जरूर रखनी चाहिए क्योकि गलत जगह पर तस्वीर लगाने से हमें अशुभ परिणाम मिल सकते है।

वहीं पूर्वजों की फोटो कभी भी देवताओं के साथ नहीं लगानी चाहिए, हमारे पूर्वज सम्मानीय होते है लेकिन वह देवी देवताओं का स्थान नहीं ले सकते । घर की उत्तर-पश्‍चिम दिशा का संबंध सहायक व्यक्ति, मालिक, बॉस या आप पर उपकार करनेवाले व्यक्ति से होता है।

आप को बता दें कि पूर्वज आदरणीय एवं श्रद्धा के प्रतीक हैं, पर वे ईष्ट देव का स्थान नहीं ले सकते। जीवित होते हुए अपनी न तो प्रतिमा बनवाएं और न ही अपने चित्रों की पूजा करवाएं। इसे किसी भी प्रकार शास्त्र सम्मत नहीं माना जा सकता।

लेकिन देखा जाए तो हमसे यह गलती हो जाती है कि बिना सोचे समझे, किसी भी जगह पर पितरों की फोटो रख देते है या किसी कमरे में टांग देते है, लेकिन ऐसा करना वास्तु शास्त्र के लिहाज से गलत होता है।

यदि फोटो आपने गलत दिशा या गलत तरह से टंगी हो तो इसके खराब प्रभाव आप पर पड सकते है। इसलिए ये जान लीजिए कि पितरों की तस्वीर सही दिशा व सही कमरें में लगी हो।

वहीं शास्त्रों में बताया गया है कभी भी अपने शयनकक्षा में या फिर पूजा करने के स्थान पर पूर्वजों के चित्र नहीं लगाने चाहिए, क्योंकि यह अपशगुन माना जाता है। वहीं मंदिर में भी ऐसी तस्वीरें नहीं लगाई जाती क्योंकि यह देवताओं के अपमान समान है।

घर के इन कोने में पितरों की फोटो नहीं लगानी चाहिए

1. अपने बेडरुम व पूजा घर में पूर्वजों के चित्र लगाना अपशगुन होता है।
2. रसोई में भी मृत पितरों की फोटों न लगाएं।
3. घर में बीच के स्थान पर पितरों की फोटो लगाने से मान-सम्मान को हानि पहुंचती है।
4. घर की पश्चिम दिशा में पितरों की फोटो लगाने से अशुभ माना जाता है।
5. पश्चिम दिशा में पितरों की फोटो लगाने से धन की हानि होती है। इसलिए इस दिशा में भी तस्वीर नहीं लगानी चाहिए। लेकिन पश्चिम उत्तर के कोने में लगा सकते हैं ।
6. पण्डित दयानन्द शास्त्री के अनुसार पित्र पूजन के समय विशेष ध्यान यह रखें कि पितरों की पूजा दक्षिण की और चेहरा करके किया जाता है। इसलिए पूजन के समय मृतक की फोटो भी दक्षिण की तरफ वाली दीवार का विधान है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply