हिंदू धर्म में मकर संक्रांति का पर्व बड़ी ही धूमधाम से मनाया जाता है . जब सूर्य देव धनु राशि से मकर राशि में प्रवेश करते हैं तो उसे मकर संक्रांत कहते हैं। हिंदू धर्म में, मकर संक्रांति विभिन्न शुभ कार्यों के लिए शुभ समय है।

स्नान, दान और अर्घ्य अभ्यास
मकर संक्रांति के दिन सूर्य देव को स्नान, दान और अर्घ्य देने का विधान है। मान्यता है कि इस दिन सुबह सूर्योदय के समय स्नान आदि के बाद जल चढ़ाया जाता है। इससे हर मनोकामना पूरी होती है।

मकर संक्रांति के दिन करें यह उपाय
मनुष्य का शरीर पांच तत्वों आकाश, वायु, अग्नि, जल और पृथ्वी से मिलकर बना है। इनमें जल तत्व को सबसे अधिक महत्व दिया गया। कहा जाता है कि जल ही जीवन है। पृथ्वी पर जीवन भी जल के कारण ही है। ज्योतिष शास्त्र में कुछ ऐसे उपाय बताए गए हैं, जिन्हें मकर संक्रांति के दिन करने से पुण्य फल की प्राप्ति होती है।

मकर संक्रांति 2023 शुभ मुहूर्त
हिन्दू पंचांग के अनुसार ग्रहों के राजा सूर्य 14 जनवरी 2023 को रात 8 बजकर 21 मिनट पर मकर राशि में प्रवेश करेंगे। उदय तिथि 15 जनवरी को आ रही है। लिहाजा नए साल में मकर संक्रांति 15 जनवरी 2023 को मनाई जाएगी।

मकर संक्रांति 2023 के लिए यह ज्योतिषीय उपाय करें

– मकर संक्रांति के दिन सुबह स्नान कर सूर्यदेव को जल अर्पित करें. फिर अपनी क्षमता के अनुसार दान करें। ऐसा करने से हर कार्य में सफलता मिलती है।

– खाना खाते समय दाहिने हाथ में पानी का गिलास रखें। ऐसा करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है ऐसा माना जाता है।

-मकर संक्रांति के दिन सुबह शिवलिंग पर जल चढ़ाएं। कहा जाता है कि ऐसा करने से जीवन की सभी परेशानियां दूर हो जाती हैं।

-ऐसी धार्मिक मान्यता है कि पेड़ों पर जल चढ़ाने से सुख-समृद्धि आती है।

– मकर संक्रांति के दिन प्रतिदिन घर में तुलसी को जल अर्पित करना चाहिए। इससे व्यक्ति के घर में सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह बना रहता है।

– सुबह स्नान के लिए पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाने से जीवन के सभी संकट दूर हो जाते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *