Ajab Gazab

मिट्टी की जगह बालू से बन रहा 943 करोड़ का बांध, दरभंगा से समस्तीपुर होते खगड़िया तक होना है काम!..

PATNA : दरभंगा के हायाघाट से भाया समस्तीपुर होते हुए खगड़िया के डुमरी पुल तक बागमती नदी बांध के जीर्णोद्धार में धांधली उजागर, मिट्टी की जगह बालू से बन रहा 943 करोड़ रुपये का बांध ! मामले में डीएम से बात कर करायी जायेगी जांच

बांध निर्माण में मिट्टी का उपयोग करना है रू अगर बांध निर्माण में बालू का उपयोग सहित धांघली की जा रही है तो पूरे मामले में डीएम से बात कर जांच के लिए कहा जायेगा. दरभंगा के हायाघाट से लेकर खगड़िया के डुमरी पुल तक बागमती नदी किनारे 443 करोड़ की लागत से जमीन अधिग्रहण कर बांध के सुदृढ़ीकरण, चौड़ी व ऊंचीकरण का काम किया जानाहै. लाखों लेगों की जिंदगी से जुड़े इस बांध निर्माण में बड़े पैमाने पर धांघली बरती जा रही है.

943 करोड़ से बन रहे बागमती नदी बांध खगड़िया के रसौंक पंचायत के कठौतिया में मिट्टी की जगह बालू दिये जाने का घाट के समीप चल रहे बांध निर्माण के खुलासा होते ही खलबली मच गयी है. बांध का निर्माण बीएससीपीएल नामक कंपनी कर रही है। जिसे कुल राशि में से करीब 500 करोड़ का ठेका मिला है। इस राशि से करांची से बदलाघाट नगरपारा तक बागमती नदी बांध के उंचीकरण चौड़ीकरण और सृदृढीकरण किया जाना है। खगड़िया के रसौंक पंचायत के कठौतिया घाट के समीप चल रहे बांध निर्माण के कार्यस्थल पर बिखरे पड़े मिट्टी की जगह बालू के उपयोग से करोड़ों के बांध के गुणवत्ता पर प्रश्नचिह्न खड़ा हो गया है। ग्रामीणों ने कहा कि मिट्टी की जगह बालू से बने बांध बागमती नदी का दबाव झेल पायेगी, इस पर संदेह है।

स्थिति यह है कि करोड़ो के बांध निर्माण स्थल पर मुंशी के भरोसे काम चल रहा है। अधिकारी को मौके पर झांकने की फुर्सत नहीं है। लिहाजा गुणवत्ता व सरकारी मापदंड को ताक पर रख कर बांध के जीर्णोद्धार के काम से ग्रामीणों में आक्रोश बढ़ रहा है। ग्रामीण इंतियाज ने बताया कि इसकी सूचना डीएम समेत अन्य अधिकारियों को पर मोबाइल पर काल कर दी गयी है। इन्हे भी जरूर पढ़ें

Leave a Reply