आप और हम सभी ने रामायण सुनी ही होगी। शास्त्रों के अनुसार रावण एक ऐसा व्यक्ति है, जिसने न केवल माता-सीता को वंचित करके गलती की बल्कि साथ ही भगवान राम से शत्रुता भी कर ली।

लेकिन क्या आप जानते है कि रावण भगवान राम से भी ज्यादा ज्ञानी था। हालांकि यह बात अलग है कि उसने माता सीता को हिरण के द्धारा अपना जीवन समाप्त करने के लिए आमंत्रित किया था। यदि रावण ने सीता की माता का वध भी किया तो इसमें कोई संदेह नहीं कि सीता की रावण के धीरज के कारण थी।

बता दें कि रावण द्वारा सीता की माता को मारने के बाद, रावण ने कभी भी सीता के साथ बुरा व्यवहार करने की कोशिश नहीं की। हालांकि हम यहां रावण को अच्छा साबित नहीं कर रहे हैं लेकिन हम उसे यह बताने की कोशिश कर रहे हैं कि इंसान की एक ही गलती उसकी जिंदगी बर्बाद कर सकती है।

रावण की इस गलती के कारण उन्हें अपनी जान गंवानी पड़ी थी लेकिन रावण ने अपनी जान देने से पहले महिलाओं के बारे में कुछ ऐसी बातें कही थीं जिन्हें जानकर आप भी सोच में पड़ जाएंगे। आज हम आपको इस आर्टिकल में बताएंगे कि रावण ने आखिर महिलाओं के बारे में क्या बातें की। तो आइए इस खबर के बारे में विस्तार से जानते है।
रावण ने महिलाओं के बारे में बताई थी ये 3 बातें
1. झूठ बोलने में सक्षम:

रावण ने अपनी गंवाने से पहले महिलाओं के बारे में ये पहली बात की। महिलाएं जो कुछ भी कहती है कि उससे तुरंत दूर हो जाती है। वे कभी सच नहीं बोलती है। इसलिए महिलाओं पर भरोसा सोच-समझकर करना चाहिए।

रावण की बहन सूरनपंखा ने रावण से झूठ बोलते हुए कहा था कि राम और उनके भाई लक्ष्मण लंका पर आक्रमण करने के लिए आ रहे थे, लेकिन वास्तव में ऐसा नहीं था। वह अपने अपमान का बदला लेना चाहती थी, इसलिए उसने यह सब किया।

महिलाएं इधर-उधर बात करती है। चूंकि ज्यादातर महिलाएं इस तरह के विवादों का काऱण बन सकती है। रावण ने कहा कि महिलाएं झूठ बोलने में बहुत सक्षम होती है। वह किसी भी क्षण अपने आप घूम जाती है। इसलिए उनकी बातों पर जल्द विश्वास नहीं करना चाहिए।
2. अपने पेट में कभी नहीं रखती बात

रावण ने अपनी जान गंवाने से पहले दूसरी बात ये कही थी कि महिलाएं एक-दूसरे को नुकसान पहुंचा रही है। अगर महिलाओं को किसी निजी चीज के बारे में पता चलता है वे उसे अपने पेट में कभी नहीं रख सकती है। वे आसानी से हर जगह फैला देती है। इसलिए महिलाओं के सामने अपने राज कभी नहीं खोलने चाहिए।

रावण ने कहा था कि महिलाएं न चाहते हुए भी किसी भी समय चीजों को अपने से बाहर फैंक सकती है। वहीं रावण ने कहा था कि महिला हमेंशा दूसरी महिला में दोष ही ढूंढेगी।
3. महिलाएं होती है मतलबी

रावण ने अपना प्राण त्यागने से पहले अंतिम बात कही थी कि महिलाएं बहुत मतलबी और स्वार्थी होती है। वे खुद को समझने के लिए किसी भी हद तक चले जाते है। फिर किसी को धोखा देते है या किसी को अपना लेते है। इसलिए ये समझना जरुरी है कि वे क्या कह रहे है।

रावण ने इस कथन का समर्थन करने वाले कई लोग है। वहीं कई लोग ऐसे भी है जो कि रावण के इस कथन को पूरी तरह से झूठ मानते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *