India

Election 2024 News: कांग्रेस प्रत्याशी Satyapal Sikarwar के भाई पर हुआ हमला

Election 2024 News: कांग्रेस प्रत्याशी Satyapal Sikarwar के भाई पर हुआ हमला


मुरैना, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश की मुरैना लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी सत्यपाल सिकरवार (Satyapal Sikarwar) ने छोटे भाई नरेंद्र सिंह सिकरवार पर जानलेवा हमले का आरोप लगाया है। सत्यपाल सिकरवार ने अपने सोशल मीडिया हैंडल पर वीडियो पोस्ट इस बात की जानकारी दी जहाँ उन्होंने इसके पीछे भाजपा साजिस होने का दावा किया है। वहीँ, पुलिस ने इस घटना को दो गुटों की आपसी रंजिश बता दिया है।


सत्यपाल ने भाजपा पर लगाया आरोप :

मुरैना लोकसभा से कांग्रेस प्रत्याशी सत्यपाल सिंह सिकरवार (नीटू) ने घटना की जानकारी देते हुए कहा कि ”मुझे अभी सूचना मिली कि मेरा छोटा भाई नरेंद्र सिंह सिकरवार, जो कि ग्राम पंचायत जनपद सदस्य है, वह सरपंच के साथ आगामी चुनाव के लिए प्रचार कर रहा था। सोनू तोमर ने मेरे भाई और अन्य सदस्यों पर जानलेवा हमला किया। उन्होंने उन पर कई राउंड गोलियां चलाईं। सिकरवार ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि “मैं अपील करना चाहता हूं कि यह चुनाव दो लोगों के बीच है और यह शांति से होना चाहिए. बीजेपी की हार दिख रही है, इसलिए मेरे परिवार के लोग शांति से चुनाव प्रचार कर रहे हैं दरवाजे से दरवाजे तक।”

पुलिस ने बताई आपसी रंजिश :

मुरैना के एडिशनल एसपी अरविंद ठाकुर मामले पर अपना बयान दिया है , उनका कहना है कि “दो पक्ष हैं-गुड्डू तोमर और सोनू तोमर। सोनू तोमर ने ही गोली चलाई थी। पीड़ित और आरोपी पुराने प्रतिद्वंद्वी हैं और पंचायत चुनाव के दौरान भी उनके बीच झगड़ा हो चुका है।यह जांच का विषय है कि घटना कब और क्यों हुई।” बताया जा रहा है कि इससे पहले 2015 के पंचायत चुनाव में भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ था।

जानकारी के अनुसार, नरेंद्र सिंह सिकरवार, पूर्व सरपंच गुड्डू तोमर और कांग्रेस कार्यकर्ता चुनाव प्रचार कर रहे थे। इस दौरान उनका काफिला सिहौंनिया क्षेत्र के रुअर गांव में पहुंचा जहां कथित तौर पर हिस्ट्रीशीटर सोनू तोमर ने प्रचार कर रहे लोगों का विरोध किया। दोनों पक्षों में बहस के बाद सोनू तोमर और उसके साथियों ने नरेंद्र और कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर फायरिंग कर दी जिससे वह वह भगदड़ मच गई। पुलिस की टीम ने घटनास्थल पर पहुंच का हालात पर काबू पाया। हालाँकि, इस घटना में किसी को गोली नहीं लगी है। बताया जा रहा है कि सोनू भाजपा का समर्थक है।

कौन है सत्यपाल सिंह सिकरवार :

कांग्रेस ने साल 2020 में भाजपा से निष्काषित किए गए और ग्वालियर पूर्व विधानसभा सीट से विधायक सतीश सिकरवार के छोटे भाई सत्यपाल सिंह सिकरवार (नीटू) को मुरैना से टिकट दिया है। सत्यपाल सिंह 2013 में मुरैना की सुमावली विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक रहे थे। मध्य प्रदेश भाजपा ने पूर्व विधायक सत्यपाल सिंह सिकरवार को ‘घोर अनुशासनहीनता’ के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया था। उनका परिवार ग्वालियर और मुरैना जिलों में काफी प्रभाव रखता है। मुरैना लोकसभा सीट के लिए तीसरे चरण यानि 7 मई को मतदान होना है जहां कांग्रेस के सत्यपाल सिंह सिकरवार के सामने भाजपा ने शिवमंगल सिंह तोमर को मैदान में उतारा है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply