बॉलीवुड दिवंगत एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के निधन ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया। सुशांत सिंह राजपूत 14 जून, 2020 को मुंबई स्थित अपने फ्लैट में मृत पाए गए थे। इस खबर ने न सिर्फ सुशांत के परिवार बल्कि उनके फैंस और पूरी इंडस्ट्री को हिलाकर रख दिया था। एक के बाद एक इस केस में कई नए मोड़ देखने को मिले। 

वहीं अब सुशात की मौत के दो साल बाद इस केस ने एक नया मोड़ ले लिया है। बता दें कि उनके पोस्टमॉर्टम से जुड़ा एक बड़ा सच सामने आया है। साल 2020 में सुशांत की मौत के बाद उनके शरीर का पोस्टमार्टम कूपर अस्पताल में किया गया था। उस दौरान ये दावा किया गया था की उनकी बॉडी पर कोई निशान नहीं है और उन्होंने सुसाइड किया है, लेकिन अब पोस्टमार्टम की टीम के एक कर्मचारी ने इन सारे दावों को गलत बताया है। ऐसे में अब सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने उनकी सुरक्षा के लिए गुहार लगाई है।

श्वेता सिंह ने की सुरक्षा की मांग  

दरअसल, कूपर अस्पताल की मॉर्चुअरी के एक स्टाफ रूपकुमार शाह ने सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमार्टम को लेकर एक बड़ा खुलासा किया है। रूपकुमार ने मीडिया को बताया कि सुशांत सिंह की बॉडी जब आई थी तो वो भी वहीं पर थे। उन्होंने सुसाइड नहीं किया था, बल्कि उनकी हत्या हुई थी। ऐसे में अब श्वेता सिंह कीर्ति ने रूपकुमार की सुरक्षा की मांग करते हुए एक ट्वीट शेयर किया है। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा, ‘हमें इस बात का ध्यान रखना होगा कि रूपकुमार सुरक्षित रहे। CBI सुशांत के केस पर समयबद्ध रहे।’ उन्होंने अपने ट्वीट को गृहमंत्री अमित शाह और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भी टैग किया है।

सुशांत के शरीर पर थे चोट के निशान

मुंबई स्थित एक अस्पताल के पोस्टमार्टम करने वाले कर्मचारी रूपकुमार शाह ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए सुशांत सिंह राजपूत को चौंकाने वाला खुलासा किया था। उन्होंने एएनआई से कहा, ‘मैं 14-15 तारीख को ड्यूटी पर था काम कर रहा था। उस दौरान मैंने जब सुशांत का शव देखा तब मुझे वो सुसाइड का मामला नहीं लगा रहा था। उनके शरीर पर एक नहीं बल्कि चोट के कई निशान थे।’ हालांकि दैनिक जागरण इसकी पुष्टि नहीं करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *