Ajab GazabIndia

अभी अभीः कश्मीर के सेना के वाहन पर घात लगाकर हमला, पांच जवान…

जम्मू। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में शनिवार को आतंकवादियों ने भारतीय वायु सेना (आईएएफ) के एक वाहन समेत दो वाहनों पर गोलीबारी की। इस हमले में पांच सुरक्षाकर्मी घायल हो गए। अधिकारियों ने बताया कि हमला शाम को शशिधर के पास हुआ जब वाहन जिले के सुरनकोट इलाके में सनाई टॉप की ओर जा रहे थे।

पांच जवान घायल हो गए, जिनमें से दो की हालत गंभीर बनी हुई है। अधिकारियों ने बताया कि उन्हें अस्पताल ले जाया गया। आतंकवादियों का पता लगाने और उन्हें मार गिराने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी और घेराबंदी अभियान शुरू किया गया है।

अधिकारियों ने कहा कि अनंतनाग-राजौरी लोकसभा क्षेत्र में मतदान से तीन हफ्ते पहले आतंकवादियों ने जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में भारतीय वायु सेना (आईएएफ) सहित दो सुरक्षा वाहनों पर घात लगाकर हमला किया। इस हमले में पांच सैनिक घायल हो गए। पुंछ अनंतनाग-राजौरी संसदीय क्षेत्र का हिस्सा है जहां 25 मई को छठे चरण में मतदान होना है।

वायुसेना ने कही ये बात
वायुसेना ने अपनी एक्स पोस्ट पर कहा कि शाम को शशिधर के पास आतंकवादियों ने भारतीय वायुसेना के एक वाहन सहित दो वाहनों पर गोलीबारी की, जिसमें पांच सुरक्षाकर्मी घायल हो गए, जिनमें से दो की हालत गंभीर है। जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में शाहसितार के पास आतंकवादियों ने भारतीय वायु सेना के वाहन काफिले पर हमला किया। स्थानीय सैन्य इकाइयों द्वारा क्षेत्र में घेराबंदी और तलाशी अभियान जारी है। काफिले को सुरक्षित कर लिया गया है और आगे की जांच जारी है।

21 दिसंबर को हमला करने वाले समूह का ही हाथ होने का अंदेशा
उन्होंने कहा कि वाहन जिले के सुरनकोट इलाके में पास के सनाई टॉप की ओर जा रहे थे, उन्होंने आतंकवादियों के उसी समूह के शामिल होने का संदेह जताया, जिन्होंने पिछले साल 21 दिसंबर को बुफलियाज से सटे सैनिकों पर घात लगाकर हमला किया था, जिसमें चार सैनिक मारे गए थे और अन्य सैनिक घायल हुए थे।

सुरक्षाबलों को तलाशी अभियान जारी
अधिकारियों ने कहा कि सेना के ट्रक को आतंकवादियों की गोलीबारी का सबसे बड़ा खामियाजा भुगतना पड़ा, जो एके असॉल्ट राइफलों से लैस थे और माना जाता है कि वे पास के जंगलों में भाग गए थे। उन्होंने बताया कि सेना और पुलिस को इलाके में भेजा गया है और आतंकवादियों का पता लगाने और उन्हें मार गिराने के लिए बड़े पैमाने पर तलाशी और घेराबंदी अभियान शुरू किया गया है।

संदिग्ध व्यक्तियों की आवाजाही के बारे में इनपुट मिलने के बाद अर्धसैनिक बलों की सहायता से पुलिस ने शुक्रवार से पुंछ शहर में तलाशी ली। हालांकि, अधिकारियों ने कहा कि ऑपरेशन के दौरान किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया।

आतंक के नए केंद्र
राजौरी और पुंछ क्षेत्र पिछले कुछ वर्षों में आतंक के नए केंद्र बन चुके हैं। आतंकी वारदात को अंजाम देकर घने जंगल में छिप जाते हैं। आशंका है कि आतंकियों ने घने जंगल के भीतर ठिकाने बना लिए हैं। यही वजह है कि सुरक्षाबलों को इस क्षेत्र में कोई बड़ी कामयाबी नहीं मिल पाई है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply