Ajab GazabIndia

आसमान से बरसा कहर, मरने वालों की संख्या 228 के पार-जानें ताजा हालात

केन्या में भारी बारिश के कारण बाढ़ की वजह से मरने वालों की संख्या बढ़कर 228 हो गई है। हाल के सप्ताहों में देश भर में हुई मूसलाधार बारिश के कारण बड़े पैमाने पर बाढ़ और भूस्खलन हुआ है, जिसके मई में और बदतर होने का अनुमान है।

केन्या में बाढ़ की मार
केन्या के सरकार ने कहा कि भारी बारिश की वजह से निचले इलाकों, तटवर्ती क्षेत्रों और शहरी क्षेत्रों में और बाढ़ आने की आशंका है, जबकि खड़ी ढलानों और खड्डों वाले क्षेत्रों में भूस्खलन की आशंका जताई गई है।

केन्या में भीषण बाढ़ ने घरों को तबाह कर दिया
पूर्वी अफ्रीका की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था माने जाने वाले केन्या में आई भीषण बाढ़ ने घरों, सड़कों, पुलों और अन्य बुनियादी ढांचे को तबाह कर दिया है।

केन्या में 164 लोग घायल हुए
केन्या के सुरक्षा मंत्रालय ने कहा कि आसमानी मार के कारण कारण कम से कम 164 लोग घायल हुए हैं, जबकि 212,630 लोग विस्थापित हुए हैं।

केन्या में मार्च के मध्य से ही भारी बारिश
केन्या में मार्च के मध्य से ही भारी बारिश का दौर जारी है। मौसम विज्ञान विभाग ने और बारिश की चेतावनी दी है। केन्या के गृह मंत्री किथुरे किंडिकी ने भविष्य में होने वाली घटनाओं को रोकने के लिए सभी सार्वजनिक और निजी बांधों तथा जलाशयों के निरीक्षण का आदेश दिया है।

पूर्वी अफ्रीकी क्षेत्र के कई देशों में बाढ़
भारी बारिश के कारण पूर्वी अफ्रीकी क्षेत्र के कई देशों को बाढ़ का सामना करना पड़ रहा है। तंजानिया में बाढ़ के कारण 155 लोगों की मौत होने की खबर है, जबकि पड़ोसी देश बुरुंडी में दो लाख से अधिक लोग प्रभावित हैं।

पूरे केन्या में दो लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित
पूरे केन्या में दो लाख से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित हुए हैं। केन्या के राष्ट्रपति विलियम रूटो ने राष्ट्रीय युवा सेवा संगठन को बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए अस्थायी शिविर हेतु जमीन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है।

केन्या एक गरीब देश
केन्या एक गरीब देश है। इस वजह से देश में आए भारी बाढ़ ने अर्थव्यवस्था को भी नुकसान पहुंचाया है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply