Ajab GazabDharamIndia

इतने करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री उर्फ बागेश्वर धाम, मन की बात पढ़ने के लेते हैं लाखों रुपए

Bageshwar Dham: बागेश्वर धाम के पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री अक्सर सुर्खियों में बने रहते हैं। विवादों से उनका पुराना नाता रहा है। हाल ही में वो ग्रेटर नोएडा आए थे जहां उनसे मिलने के लिए लाखों की भीड़ आई थी। बागेश्वर धाम लोगों का चेहरा देखकर उनके मन की बात का पता लगा लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं बाबा बागेश्वर (Bageshwar Dham) लोगों के मन की बात पढ़ने के लिए कितने रुपये लेते हैं? क्यों उनकी कथा में लोगों की इतनी भीड़ उमड़ रही है, उनकी नेटवर्थ कितनी है। चलिए आपको बताते हैं उनके बारे में।

कौन हैं धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री बागेश्वर धाम

बता दें कि पीठाधीश्वर पंडित धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री (Dhirendra Krishan Shastri) बागेश्वर धाम (Bageshwar Dham) के परिवार की आर्थिक स्थिति काफी खराब थी। एक समय ऐसा था जब उनके घर में खाने का अभाव रहता था। रहने के लिए एक कच्चा मकान था,खाने का भी अभाव रहता था। मकान ऐसा था जो बरसात के दिनों में टपकता था। धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री का जन्म 4 जुलाई 1996 को मध्य प्रदेश के छतरपुर के पास स्थित गड़ागंज ग्राम में हुआ था। इनका पूरा परिवार उसी गड़ागंज में रहता है, जहां पर प्राचीन बागेश्वर धाम का मंदिर स्थित है। इनका पैतृक घर भी यही पर है, उनके दादा पंडित भगवान दास गर्ग (सेतु लाल) भी यहां करते थे।
मन की बात पढ़ने का दावा करते हैं बागेश्वर धाम

धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री का दावा है कि वे लोगों के मन की बात पढ़ लेते हैं। कोई भी भक्त अपनी समस्या लेकर उनके पास आता है तो वे पहले ही उसे कागज पर लिख लेते हैं और उसका समाधान भी बता देते हैं। बागेश्वर धाम बागेश्वर धाम (Bageshwar Dham) सरकार का कहना है कि ये ध्यान विधि का नतीजा है जो सनातन धर्म की सदियों पुरानी परंपरा है। आभासी शक्ति के जरिए वे भक्त की समस्या जानकर उसे कागज पर लिख लेते हैं। हनुमान जी की कृपा से वह सही हो जाता है। हनुमान जी की गदा की तरह दिखने वाला यह मुगदर हमेशा बागेश्वर महाराज के साथ रहता है। उनका कहना है कि इसी मुगदर से उन्हें शक्तियां मिलती हैं। इसी को लेकर विवाद बना हुआ है।
इतनी संपत्ति के मालिक हैं Bageshwar Dham

बाबा बागेश्वर की हर महीने की कमाई करीब 3.5 लाख रुपये तक है। वह रोजाना करीब आठ हजार रुपये कमाते हैं। वहीं मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बाबा बागेश्वर की नेटवर्थ 19.50 करोड़ रुपये है। वो कथा, प्रवचन और मन की बात पढ़कर कमाई करते हैं। लाखों सनातनी लोगों के विश्वास से बाबा को हर साल काफी चढ़ावा भी मिलता है। अनुमान के मुताबिक, बागेश्वर धाम (Bageshwar Dham) की एक कथा 15 दिन तक चलती है। जिसके लिए उनकी फीस करीब एक से डेढ़ लाख रुपये है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply