Ajab GazabIndia

केजरीवाल मिठाई खाकर बीमार पड़ रहे हैं ताकि उन्हें जमानत मिल सके, क्लिक कर जाने पूरी खबर


नई दिल्ली। तिहाड़ जेल में बंद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की एक याचिका को लेकर दिल्ली के राज एवेन्यू कोर्ट में सुनवाई हुई है। बताया जा रहा है कि कोर्ट में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने अपनी दलीलें देते हुए कहा है कि अरविंद केजरीवाल हेल्थ ग्राउंड पर बेल लेने की कोशिश कर रहे हैं। ईडी ने कहा है कि जेल में अरविंद केजरीवाल पूड़ी-आलू, आम और मिठाई खा रहे हैं ताकि उनका शुगर लेवल बढ़ जाए और वो बेल हासिल कर सकें। बता दें कि अरविंद केजरीवाल ने कुछ दिनों पहले एक याचिका दायर की थी और इस याचिका में उन्होंने गुहार लगाई थी कि वो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए निरंतर अपने चिकित्सक के संपर्क में रहना चाहते हैं।

सीएम केजरीवाल की याचिका पर सुनवाई के बाद ईडी के विशेष वकील जोहेब हुसैन ने कहा, कोर्ट को केजरीवाल का डाइट चार्ट बताया गया है। डाइट चार्ज में आम और मिठाइयां हैं। हमने इसे अदालत को बताया है कि केजरीवाल जानबूझ कर मीठा खाना खा रहे हैं जबकि यह किसी भी डायबिटीज के मरीज के लिए ठीक नहीं होता है।

वहीं अरविंद केजरीवाल के वकील ने विवेक जैन ने कहा, ईडी ने इसे इसलिए मुद्दा बनाया है ताकि घर का खाना भी उन्हें देने से रोका जा सके। यह उनके स्वास्थ्य से जुड़ा है। वो जो कुछ भी खा रहे हैं वो चिकित्सकों द्वारा दिया गया डाइट है। मामला अदालत में है और हम अभी इसपर और कुछ नहीं कह सकते हैं।

कोर्ट ने मांगा डाइट चार्ट बताया जा रहा है कि ईडी ने कोर्ट से कहा है कि केजरीवाल जेल में आलू-पूड़ी, आम और हद से ज्यादा मीठी चीजें खा रहे हैं। ईडी ने अदालत से यह भी कहा है कि कोर्ट ने अरविंद केजरीवाल को पहले ही घर का खाना खाने की मंजूरी दे दी है। उन्हें पहले से ही ब्लड प्रेशर की समस्या है। अरविंद केजरीवाल टाइप-2 डायबिटीज से जूझ रहे हैं। ईडी ने दावा किया कि केजरीवाल यह सब चीजें इसलिए खा रहे हैं। ताकि उन्हें जमानत मिल जाए। अब इस मामले में शुक्रवार की दोपहर 2 बजे सुनवाई होगी। अदालत ने केजरीवाल का डाइट चार्ट और मेडिकल रिपोर्ट जेल प्रशासन से मांगा है।

स्पेशल जज कावेरी बावेजा की अदालत में ईडी की तरफ से दलील दी गई कि केजरीवाल शुगर लेवल बढ़ाना चाहते हैं ताकि वो मनी लॉन्ड्रिंग केस में स्वास्थ्य का हवाला देकर जमानत हासिल कर सकें। अरविंद केजरीवाल ने चिकित्सकों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संपर्क में रहने की इजाजत मांगने वाली याचिका वापस ले ली है। कोर्ट में केजरीवाल के वकील ने इस याचिका को यह कहते हुए वापस ले लिया कि वो इससे बेहतर एप्लिकेशन दायर करना चाहते हैं। बता दें कि अरविंद केजरीवाल दिल्ली के कथित शराब घोटाले में जेल में बंद हैं। उन्होंने कहा था कि ईडी की हिरासत के दौरान उनका शुगर लेवल 46 तक पहुंच गया था।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply