India

मध्यप्रदेश में अजीबोगरीब बयान से गरमाई सियासत, ‘जिसकी 2 पत्नियां उसे कांग्रेस हर साल देगी 2 लाख रुपये’

रतलाम. पूर्व केंद्रीय मंत्री और मध्य प्रदेश (MP) के रतलाम से कांग्रेस (Congress) के लोकसभा उम्मीदवार कांतिलाल भूरिया (Kantilal Bhuria) ने गुरुवार को एक रैली को संबोधित करते हुए पार्टी द्वारा प्रस्तावित ‘महालक्ष्मी योजना’ (Mahalakshmi Scheme) को लेकर एक अजीबोगरीब दावा कर दिया. उनके इस दावे पर विवाद खड़ा हो गया. भूरिया ने कहा कि लोकसभा चुनाव 2024 के लिए कांग्रेस ने अपने ‘न्याय पत्र’ (Justice Letter) (घोषणा पत्र) में महालक्ष्मी योजना का जिक्र किया है. इसके तहत हमारी सरकार बनने पर गरीब परिवार की महिलाओं को हम 1 लाख रुपये सालाना देंगे और जिसकी दो बीवियां (two wives) होंगी उन्हें 2 लाख रुपये मिलेंगे

इस बयान पर सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी ने तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की. भाजपा ने कांग्रेस के नेतृत्व वाली पिछली संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) सरकार में आदिवासी मामलों के केंद्रीय मंत्री रहे कांतिलाल भूरिया (73) के खिलाफ चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की. भूरिया ने सैलाना में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘हमारा घोषणापत्र हर महिला को 1 लाख रुपये देने का वादा करता है. यह उनके बैंक खाते में जमा किया जाएगा. जिस व्यक्ति की दो पत्नियां हैं, वे दोनों इस योजना के अंतर्गत आएंगी.’

जीतू पटवारी ने किया भूरिया के बयान का समर्थन

इसी रैली में बोलते हुए मध्य प्रदेश कांग्रेस प्रमुख जीतू पटवारी ने भूरिया के बयान का समर्थन किया. उन्होंने कहा, ‘भूरिया जी ने अभी एक शानदार घोषणा की है कि दो पत्नियों वाले व्यक्ति को दोगुनी (1 लाख रुपये की वित्तीय सहायता) मिलेगी.’ कांग्रेस के घोषणापत्र के अनुसार, महालक्ष्मी योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (BPL) जीवन यापन करने वाली महिलाओं को इस कैटेगरी से बाहर निकलने तक 8500 रुपये प्रति माह मिलेंगे, जो सालाना 102000 रुपये होते हैं.

कांतिलाल भूरिया ने अपने संबोधन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आदिवासियों का अपमान करने और सीधी में एक भाजपा नेता द्वारा एक आदिवासी पर पेशाब किए जाने पर चुप रहने का आरोप लगाया. भूरिया का मुकाबला मध्य प्रदेश के वन मंत्री नागर सिंह चौहान की पत्नी अनिता चौहान से है. रतलाम में चौथे चरण में 13 मई को लोकसभा चुनाव के लिए वोट डाले जाएंगे. इस बीच, एमपी बीजेपी के प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने भूरिया के बयान की क्लिप सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर अपलोड की और चुनाव आयोग को टैग करते हुए कार्रवाई की मांग की.

कांग्रेस कर रही बहुसंख्यक हिंदुओं का अपमान: BJP

बता दें कि कांतिलाल भूरिया ने रतलाम सीट से 2009 का लोकसभा चुनाव जीता था, लेकिन 2014 में भाजपा के दिलीप सिंह भूरिया से हार गए. 2015 में, दिलीप सिंह के निधन से यह सीट खाली हो गई और उपचुनाव में कांग्रेस नेता कांतिलाल ने एक बार फिर यहां से जीत दर्ज की. लेकिन 2019 में वह फिर से भाजपा के गुमान सिंह डामोर से हार गए. बीजेपी ने भूरिया के ‘दो पत्नियों वालों को 2 लाख’ वाले बयान की आलोचना करते हुए कांग्रेस पर एक विशेष समुदाय के तुष्टिकरण का आरोप लगाया है. भाजपा के प्रदेश मीडिया प्रभारी आशीष अग्रवाल ने जीतू पटवारी, दिग्विजय सिंह और कांतिलाल भूरिया पर मंच से बहुसंख्यक हिंदुओं का अपमान करने का आरोप लगाया. ये खबरें भी पढ़ें – बड़े कालेज की लड़कियां कुछ इस तरह से करती हैं देह-व्यापार
कैंसर की पहली स्टेज में शरीर में दिखाई देते हैं ये 8 बदलाव, जरूर जानें

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply