Ajab GazabIndia

’मेरा भाई नहीं रहा…’ ग्रामीणों को हुआ शक, महिला की करतूत से कांपा पुलिस का कलेजा


मेरठ. पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ में रिश्तों के कत्ल का सनसनीखेज मामला सामने आया है. एक बहन ने अपने ही भाई की हत्या करवा दी. मृतक ने 50 लाख रुपये का बीमा करवा रखा था. बीमा राशि हड़पने के लिए बहन ने अपने भाई को ही मरवा डाला और फिर उसकी मौत का नाटक करके अंतिम संस्कार करवाने की कोशिश की. इसी बीच, ग्रामीणों की शिकायत पर पहले पोस्टमार्टम हुआ और हकीकत खुलकर सामने आ गई.

मामला मेरठ के थाना बहसुमा क्षेत्र का है, जहां मोनू नाम के शख्स ने अपनी बहन को करीब 13 लाख रुपये उधार दे रखे थे. मोनू शराब का शौकीन था और अपनी बहन के पास अक्सर जाया करता था. बहन ने उधार के रकम न लौटने और मोनू की बीमा राशि हड़पने के लिए उसकी हत्या की प्लानिंग कर डाली. प्लानिंग को हकीकत में तब्दील करने के लिए उसने अपने ड्राइवर अमरीश को मर्डर प्लान में शामिल कर लिया. अमरीश अपराधी किस्म का व्यक्ति है, जिसने मोनू से पहले ही 86000 रुपये उधार ले रखे थे. प्लानिंग के तहत बहन ने अपने भाई को बुलाया और फिर अमरीश ने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी.

इस घटना को सामान्य मौत बताते हुए बहन ने अंतिम संस्कार की पूरी तैयारी कर ली थी लेकिन ग्रामीणों को इस मामले पर शक हुआ. पुलिस को सूचना दी गई. पुलिस ने मृतक का पोस्टमार्टम कराया. पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद हकीकत पर से पर्दा उठ गया. जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो बहन और अमरीश ने अपना गुनाह कबूल कर लिया. पुलिस ने मोनू हत्याकांड का खुलासा करते हुए दोनों आरोपियों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया.

मेरठ देहात एसपी कमलेश बहादुर ने बताया, ‘थाना बहसुमा क्षेत्र के एक गांव की युवक की हत्या उसकी बहन के घर में हुई थी. पूछताछ में प्रकाश में आया कि मृतक के ताऊ ने उसे गोद लिया हुआ था. इसलिए उसके नाम जमीन आ गई थी. मृतक नशे का आदी था. उसने जमीन बेंच दी थी. जो पैसे प्राप्त हुए थे, उसमें से कुछ बहन को दिए थे. बहुत ज्यादा पैसा नशे में उड़ा दिया था. बहन ने इसके नाम से बीमा भी कराया था. मृतक बहन के यहीं पर रहता था. मृतक की आदतों से परेशान होकर बहन ने अंबरीश नाम के शख्स के साथ मिलकर हत्या कर दी.’

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply