Ajab GazabIndia

लोकसभा चुनाव में बीजेपी को 150 से ज्यादा सीटें नहीं मिलेंगी: राहुल गांधी

 

भागलपुर (TBN – The Bihar Now डेस्क)| कांग्रेस नेता राहुल गांधी (Congress leader Rahul Gandhi) ने शनिवार को दावा किया कि इस लोकसभा चुनाव में बीजेपी (BJP) 150 से ज्यादा सीटें नहीं जीतेगी. भागलपुर (Bhagalpur) में एक सार्वजनिक रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने ऐसा कहा.

रैली में उपस्थित भीड़ को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, “ये भाजपा के लोग कहते रहे हैं कि वे इतनी या इतनी सीटें सुरक्षित करेंगे. लेकिन मैं स्पष्ट कर दूं, उन्हें (भाजपा) 150 से ज्यादा सीटें नहीं मिलेंगी. 150 से ज्यादा एक भी सीट नहीं मिलेगी.”

अग्निवीर योजना खत्म कर देंगे

राहुल गांधी ने ‘अग्निवीर योजना’ (Agniveer scheme) को ख़त्म करने का वादा करते हुए कहा कि भारत को दो तरह के शहीदों की ज़रूरत नहीं है. उन्होंने कहा, “जैसे ही भारत गठबंधन की सरकार आएगी, हम अग्निवीर योजना खत्म कर देंगे. भारत को दो तरह के शहीदों की जरूरत नहीं है. सभी को पेंशन मिलनी चाहिए.”

एक टैक्स होगा

उन्होंने सत्ता में आने पर ‘न्यूनतम कर’ लागू करने का भी वादा किया. उन्होंने कहा, “हम जीएसटी बदल देंगे. एक टैक्स होगा, न्यूनतम टैक्स होगा. हम आशा (Asha workers) और आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganwadi workers) का वेतन दोगुना कर देंगे.”

MSP की गारंटी

उन्होंने INDIA गठबंधन (INDIA alliance) की सरकार बनने पर किसानों का कर्ज माफ करने और न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की गारंटी देने का भी वादा किया.

किसानों का कर्ज माफ

उन्होंने कहा, “हम किसानों को दो गारंटी दे रहे हैं. पहली, कांग्रेस पार्टी (Congress party) किसानों का कर्ज माफ करने जा रही है और दूसरी, हम भारत के किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य की गारंटी देने जा रहे हैं.”

उन्होंने यह भी वादा किया कि उनकी सरकार भारत में सभी स्नातकों और डिप्लोमा धारकों को प्रशिक्षुता का अधिकार प्रदान करेगी.

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षुता के अधिकार के तहत प्रत्येक व्यक्ति को वेतन के साथ सार्वजनिक, निजी और सरकारी क्षेत्रों में एक वर्ष के लिए प्रशिक्षुता प्राप्त होगी और यदि वे अच्छा प्रदर्शन करते हैं, तो उन्हें एक स्थायी नौकरी मिलेगी.

अप्रेंटिसशिप का अधिकार

उन्होंने कहा, “भारत के सभी स्नातक और डिप्लोमा धारकों को हम एक अधिकार देंगे – अप्रेंटिसशिप का अधिकार. अप्रेंटिसशिप के अधिकार का मतलब है कि हमारी अगली सरकार भारत के हर युवा को पहली नौकरी का अधिकार (right to a first job) देने जा रही है. सभी को वेतन के साथ एक साल की अप्रेंटिसशिप मिलेगी. उन्हें प्रशिक्षण दिया जाएगा और यदि वे पहले वर्ष में अच्छा प्रदर्शन करेंगे तो उन्हें स्थायी नौकरी मिल जाएगी. ये प्रशिक्षुता नौकरियां सार्वजनिक इकाइयों, निजी क्षेत्र और सरकारी क्षेत्र में उपलब्ध होंगी.”

बताते चलें, लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण के लिए 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 102 संसदीय क्षेत्रों में शुक्रवार को मतदान संपन्न हुआ. दूसरा चरण 26 अप्रैल को होगा और बाकी चरण तदनुसार 7 मई, 13 मई, 20 मई, 25 मई और 1 जून को होंगे.

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply