HealthIndia

विटामिन- डी की कमी को हल्के में लेना पड़ सकता है भारी, समय से दें ध्यान नहीं तो होगा यह नुकसान

विटामिन- डी (Vitamin D) मानव स्वास्थ्य के लिए काफी अहम होती है और यह बात हम सभी जानते और समझते हैं कि विटामिन- डी का मुख्य स्रोत्र सूर्य है। वहीं एक रिपोर्ट की मानें तो बीते कुछ वर्षों में दुनियाभर के लोगों में विटामिन- डी की कमी भारी मात्रा में देखी गई है। मालूम हो कि विटामिन- डी की शरीर में कमी होने से दिल संबंधी बीमारियां आदि होती हैं।

ऐसे में विटामिन- डी की कमी को पूरा करने के लिए लोग काफी सप्लीमेंट्स का सहारा भी लेते हैं, लेकिन कई बार लोग डॉक्टरी सलाह लेने से पहले ही कई तरह के सप्लीमेंट्स लेना शुरू कर देते हैं। जो कहीं न कहीं समस्या का कारण भी बन जाता है। आइए ऐसे में समझें विटामिन- डी की कमी से शरीर को कैसे बचाएं…

बता दें कि विटामिन-D का मुख्य स्रोत्र सूर्य का प्रकाश होता है, जो हमारे शरीर में कैल्शियम और फॉस्फेट की मात्रा को नियंत्रित करने में हेल्प करता है। वहीं कैल्शियम और फॉस्फेट के संतुलन से ही शरीर में हड्डियां, दांत और मांसपेशियों स्वस्थ और मजबूत रहती है।

लेकिन कई मर्तबा ऐसा होता है कि ठंड के मौसम में मांसपेशियों और हड्डी से संबंधित दर्द एकाएक व्यक्ति के शरीर में शुरू हो जाता है। ऐसे में यह कहीं न कहीं विटामिन- डी के स्तर में कमी आने का संकेत होता है।

मालूम हो कि कई बार विटामिन-डी के स्तर में आई कमी कई गंभीर बीमारियों को भी बुलावा देती है, जिसमे आजकल कोरोना रूपी गंभीर खतरा भी शामिल है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply