Ajab GazabIndia

शादी के बाद दूल्हे के साथ हो गया कांड, ससुराल वाले बोले: हमारे यहां तो ऐसा ही होता है


अलवर. अलवर के शिवाजी पार्क थाने में एक लुटेरी दुल्हन और उसकी गैंग के खिलाफ केस दर्ज किया गया है. आरोप है कि दुल्हन शादी करने के बाद नकदी और जेवरात लेकर फरार हो गई. शादी के बाद वापस अपने पीहर गई दुल्हन ने ससुराल आने से मना कर दिया है. उसका पति उसे लेने के लिए ससुराल गया तो उसे फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी देकर वापस लौटा दिया गया. पुलिस ने मामला दर्ज कर इसकी जांच शुरू कर दी है.

अलवर के बुध विहार निवासी रामगोपाल सिंह राजपूत ने इस संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई है. रिपोर्ट में उसने बताया कि करीब डेढ़ साल उसके घर पर उत्तर प्रदेश के आगरा निवासी रामबीर सिंह व उसकी पत्नी अर्चना देवी आए थे. उन्होंने कहा कि हमारी भतीजी मनीषा तोमर विवाह योग्य हो गई है. उसकी शादी आपके पुत्र कुलदीप सिंह से करवाना चाहते हैं. लेकिन उसके भाई की आर्थिक स्थिति कमजोर है. इसलिए शादी का खर्चा आपको ही वहन करना पड़ेगा.

दुल्हन को भेंट किए थे सोने-चांदी के जेवर
उसके बाद रिश्ता तय हो गया. उन्होंने शादी के लिए लड़की वालों को तीन लाख रुपये दे दिए गए. उसके बाद वे अलवर 20 बाराती लेकर आगरा गए. वहां विवाह का कार्यक्रम हुआ. शादी के बाद वे दुल्हन मनीषा तोमर को लेकर अलवर आ गए. यहां समाज बिरादरी में इज्जत को ध्यान में रखते हुए दुल्हन मनीषा को सोने की नथ, टीका, कंठी, मंगलसूत्र, गले का हार, बाजूबंद, चार चूड़ियां, चार अंगूठी और कमरबंद समेत 250 ग्राम चांदी की पायजेब तथा अन्य गहने दिए.

दहेज का सामान भी अपने रुपयों से दिलाया
दहेज का सामान दिखाने के लिए भी उन्होंने लड़की वालों को अपने रुपयों से दिलवाया. वो सामान दो दिन बाद अलवर भेजने के लिए कहा था. लेकिन लड़की वालों ने कहा कि सामान भेजने के लिए वाहन का इंतजाम नहीं हुआ है. बाद में भिजवा देंगे. शादी की सभी रस्में करने बाद 11 नवंबर 2022 को मनीषा का भाई नीरज, पंकज और कृष्णा जैन उसे लेने आए. उसी दिन दुल्हन मनीषा को सभी जेवर पहनाकर पीहर भेज दिया गया.

ससुराल वालों ने दामाद को दी धमकी
उसके बाद मनीषा को पीहर से वापस लाने के लिए उसका बेटा कुलदीप अपनी ससुराल गया. लेकिन उसकी ससुराल वालों ने मनीषा को साथ भेजने से इनकार कर दिया. काफी हाथाजोड़ी की लेकिन पार नहीं पड़ी. मनीषा के परिजनों ने साफ कहा कि वे इस तरह ही शादी करने के बाद नकदी और जेवरात हड़प लेते हैं. लड़की को वापस नहीं भेजते है. उन्होंने शादी का नाटक किया था. यहां से चले जाओ नहीं तो कोई झूठे मुकदमे में फंसवा कर तुम्हें यही बंद करवा देंगे. इसके बावजूद उन्होंने मनीषा को लाने के प्रयास जारी रखे लेकिन वे नहीं माने. इस पर थकहार वो पुलिस के पास आए हैं.

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply