Ajab GazabIndia

सनसनीखेज खुलासाः केजरीवाल ने 134 करोड़ रुपए लेकर किया आतंकवादी छोड़ने का वादा, मचा हडकंप

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। कथित शराब घोटाले में लगे आरोपों की वजह से जेल में बंद अरविंद केजरीवाल के खिलाफ एलजी वीके सक्सेना ने नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी (एनआईए) से भी जांच की सिफारिश कर दी गई है। बताया जा रहा है कि राजभवन को शिकायत मिली थी जिसमें केजरीवाल पर खालिस्तानी आतंकी संगठन से पैसा लेने का आरोप है। दावा किया गया है कि केजरीवाल ने प्रतिबंधित आतंकी संगठन सिख फॉर जस्टिस (एसएफजे) से पैसा लिया था।

केंद्रीय गृह सचिव को लिखे लेटर में उपराज्यपाल सचिवालय ने कहा कि सक्सेना को शिकायत मिली थी कि केजरीवाल की अगुआई वाली पार्टी ने देवेंद्र पाल भुल्लर की रिहाई के लिए चरमपंथी खालिस्तानी समूहों से 1.6 करोड़ डॉलर की फंडिंग ली थी। राजभवन की ओर से कहा गया कि शिकायतकर्ता की ओर से दिए गए इलेक्ट्रॉनिक सबूतों की फॉरेंसिक जांच और पूरे मामले की पड़ताल की आवश्यकता है। केजरीवाल को कथित शराब घोटाले से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग केस में 21 मार्च को गिरफ्तार किया गया था। वह तब से ही जेल में बंद हैं।

हाल ही में पन्नू ने किया था दावा
हाल ही में खालिस्तानी आतंकी पन्नू ने भी एक वीडियो जारी करके दिल्ली के मुख्यमंत्री पर गंभीर आरोप लगाए थे। पन्नू ने दावा किया था कि उसके संगठन ने 2014 से 2022 के बीच आम आदमी पार्टी को 16 मिलियन डॉलर (करीब 134 करोड़ रुपए) दिए। पन्नू ने यह भी दावा किया था कि आतंकी देवेंद्र पाल भुल्लर की रिहाई का वादा करके आम आदमी पार्टी ने पैसे लिए थे। उसका कहना था कि केजरीवाल ने पैसे लेकर वादे पूरे नहीं किए।

कुमार विश्वास ने भी लगाए थे आरोप
इससे पहले आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता और कवि कुमार विश्वास ने भी अरविंद केजरीवाल पर खालिस्तानी समर्थक संगठनों से मिलीभगत का आरोप लगाया था। आप के संस्थापक सदस्यों में शामिल रहे कुमार विश्वास ने कहा था कि उन्होंने केजरीवाल को खालिस्तान समर्थकों के बैठक करते हुए देखा था और आपत्ति जाहिर की थी। बकौल विश्वास केजरीवाल ने कहा था कि उन्हें चुनाव में फायदा मिलने वाला है।

आम आदमी पार्टी ने किया साजिश का दावा
केजरीवाल के खिलाफ नई जांच पर आम आदमी पार्टी ने एक बार फिर भाजपा पर साजिश रचने का आरोप लगाया है। पार्टी का कहना है कि दिल्ली में संभावित हार को देखकर भाजपा ने नई साजिश रची है। केजरीवाल सरकार के मंत्री सौरभ भारद्वाज ने जांच की सिफारिश करने वाले एलजी वीके सक्सेना के खिलाफ भी कठोर शब्दों का इस्तेमाल किया और उन्हें भाजपा एजेंट बताया। भारद्वाज ने कहा कि भाजपा के इशारे पर सीएम केजरीवाल के खिलाफ एक और षड्यंत्र किया गया है। उन्होंने कहा कि भाजपा दिल्ली में सातों सीट हार रही है और हार के डर से भाजपा बौखला गई है। मंत्री ने कहा कि पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले भी भाजपा ने ये साजिश की थी।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply