Ajab GazabIndia

हरियाणा में इस बार BJP के साथ हो सकता है ‘खेला’, इन सीटों पर कांग्रेस दे रही कड़ी टक्कर


चंडीगढ़: हरियाणा में लोकसभा चुनाव के लिए 25 मई को मतदान होना है। कांग्रेस 8 तो बीजेपी ने अपने सभी उम्मीदवारों की घोषणा कर दी है। 2019 में 10 लोकससभा सीटे जीतने वाले बीजेपी को इस बार कांग्रेस कड़ी टक्कर दे सकती है। कांग्रेस की लिस्ट जारी होने के बीजेपी की राह काफी कठिन नजर आ रही है। हरियाणा की कई लोकसभा सीटें ऐसी है जहां बीजेपी के साथ कांग्रेस खेला कर सकती है। हरियाणा में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी गठबंधन करके मैदान में उतरी है। आप एक तो कांग्रेस 9 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। दोनों ने 9 उम्मीदवार मैदान में उतार दिए हैं। कांग्रेस अभी गुरुग्राम लोकसभा सीट पर उम्मीदवार का ऐलान नहीं कर पाई है। जिन 8 सीटों पर कांग्रेस ने उम्मीदवारों की घोषणा की है उससे बीजेपी के लिए चुनाव अब राह कठिन दिखाई दे रही है। आइए जानते हैं किन सीटों पर कांग्रेस बीजेपी को टक्कर दे सकती है।

सबसे पहले बात करते हैं रोहतक लोकसभा सीट की। रोहतक से मौजूदा सांसद और बेजीपी उम्मीदवार डॉ. अरविंद शर्मा को टक्कर देने के लिए कांग्रेस ने दीपेंद्र हुड्डा को उम्मीदवार घोषित किया है। वे राज्यसभा सांसद भी हैं। डॉ. अरविंद शर्मा और दीपेंद्र हुड्डा एक महीने से भी ज्यादा समय से चुनाव प्रचार में जुटे हुए हैं। रोहतक लोकसभा क्षेत्र से अभी आईएनएलडी और जेजेपी ने अपने उम्मीदवार घोषित नहीं किए हैं। रोहतक लोकसभा क्षेत्र को हुड्डा परिवार का गढ़ माना जाता है। देश की आजादी के बाद पहली बार हुए चुनाव में वर्ष 1952 में दीपेंद्र हुड्डा के दादा रणबीर सिंह हुड्डा ने रोहतक लोकसभा क्षेत्र से कांग्रेस उम्मीदवार के तौर पर जीत हासिल की थी। हुड्डा के मैदान में उतरने से अब इस सीट पर मुकाबला दिलचस्प हो गया है।

फरीदाबाद लोकसभा सीट
फरीदाबाद लोकसभा चुनाव के लिए बड़ी पार्टियों ने अपने खिलाड़ियों का ऐलान कर दिया है। अब इंतजार है आधिकारिक रूप से मैदान में उतरने की। नामांकन के साथ ही निर्दलीय और अन्य पार्टियों के प्लेयर की भी तस्वीरें साफ हो जाएंगी, फिर मुकाबले का रोमांच बढ़ने लगेगा। बहरहाल, जिन पांच दलों ने अपने प्रत्याशी उतारने में जो रणनीति अपनाई है, उसमें सोशल इंजीनियरिंग तो है ही, लेकिन जातिगत गुणा-भाग भी कम नहीं है। कांग्रेस और बीजेपी के प्रत्याशी पहले विधानसभा चुनावों में एक-दूसरे को पटखनी दे चुके हैं। बीजेपी के कृष्णपाल गुर्जर के सामने जीत की हैटट्रिक लगाने तो वेटरन प्लेयर महेंद्र प्रताप सिंह के सामने खुद को साबित करने की चुनौती है। इनेलो, बीएसपी और जेजेपी के प्रत्याशी पहली बार लोकसभा चुनाव में पुराने दिग्गजों के सामने हैं। उनके पास राजनीतिक तौर पर खोने को कुछ नहीं है!

हिसार सीट पर कड़ा मुकाबला
अब बात करते हैं हिसार लोकसभा सीट की। यहां बीजेपी ने निर्दलीय विधायक और सरकार में मंत्री रणजीत चौटाला को भाजपा में शामिल करवाकर मैदान में उतारा है। कांग्रेस ने इस सीट से पूर्व केंद्रीय मंत्री जयप्रकाश जेपी को मैदान में उतारा है। हिसार लोकसभा सीट पर बीजेपी ही नहीं कांग्रेस के लिए चुनौती रहने वाली है। इसके पीछे की वजह है जननायक जनता पार्टीस जिसने नैना चौटाला को टिकट दिया है। वहीं आईएनएलडी ने सुनैना चौटाला को मैदान में उतारा है जो कि चौटाला परिवार की बहुएं हैं। यहां पर मुकाबला चार कोणीय रह सकता है।

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply