Ajab GazabHealthIndia

50 की उम्र के बाद भी आप रहना चाहते हैं हेल्दी? इन 5 आदतों को आज ही अपनाएं


How To Remain Healthy After 50: पचास की उम्र पार करने के बाद सभी लोग हेल्दी और फिट रहना चाहते हैं, लेकिन हर किसी की ये ख्वाहिश पूरी नहीं होती क्योंकि उम्र के इस पड़ाव में शरीर कई बीमारियों से घिर जाता है. लंबी उम्र तक सेहतमंद रहने के लिए आपको हेल्दी लाइफस्टाइल को फॉलो करना बेहद जरूरी है. जिंदगी में स्ट्रेस नहीं होना चाहिए, आप हमेशा हंसते रहें और जीवन के हर पल को मुस्कुराते हुए बिताएं, ये सब अच्छी और हेल्दी आदतों पर डिपेंड करता है. भारत के मशहूर न्यूट्रीशन एक्सपर्ट निखिल वत्स (Nikhil Vats) ने बताया कि लंबी उम्र तक फिट रहने के लिए आप कौन से तरीके अपना सकते हैं.

1. हमेशा हेल्दी डाइट लें
लंबी उम्र तक स्वस्थ रहने के लिए डाइट में न्यूट्रिएंट्स से भरपूर चीजों को शामिल करें. इसके लिए आप डाइट में अनाज, फलियां और नट्स को डाइट में रोज शामिल करें. ये फूड्स कई तरह के पोषक तत्वों से भरपूपर होते हैं.

2. फिजिकल एक्टिविटी जरूरी
फिजिकली एक्टिव नहीं रहने से आप न सिर्फ मोटापे का शिकार होंगे, बल्कि हड्डियां, मांसपेशियां सभी कमजोर होने लगेंगी. साथ ही शरीर में रक्त प्रवाह सही से नहीं होगा. एक रिपोर्ट से अनुसार, लंबी उम्र तक जीने के लिए हर दिन 10 हजार कदम चलना बहुत जरूरी है. जो लोग जिमिंग, इंटेंस वर्कआउट नहीं करते हैं, उन्हें फिट और एक्टिव रहने के लिए चलना-फिरना, टहलना बहुत जरूरी है.

3. धूप में बैठना जरूरी है
हेल्थ एक्सपर्ट्स कहते हैं कि पूरा दिन लैपटॉप और मोबाइल की रोशनी में रहने से अच्छा है कि आप थोड़ी देर बाहर जाकर नेचुरल रोशनी में रहें. धूप रोशनी का प्राकृतिक सोर्स है, साथ ही इससे विटामिन डी भी मिलती है, जो हड्डियों, दांतों के साथ ही शरीर के कई अंदरूनी कार्यों में भी मदद करता है. यदि आप लंबी उम्र तक हड्डियों की बीमारी से बचे रहना चाहते हैं, तो विटामिन डी के लिए सुबह की धूप में आधा घंटा जरूर बैठें.

4. रेड मीट से बना लें दूरी
भले ही शरीर को प्रोटीन की जरूरत है, फिर भी आप ज्यादा मात्रा में रेड मीट न खाएं, रेड मीट में कोलेस्ट्रॉल, अस्वास्थ्यवर्धक फैट मौजूद होता है, जो हृदय रोगों को बढ़ाता है. साथ ही प्रॉसेस्ड मीट या फूड्स पेट के कैंसर के जोखिम को भी बढ़ा सकते हैं. इसलिए इन चीजों को खाने से बचें.

5. स्ट्रेस को कहें बाय-बाय
स्ट्रेस आपको जीवन को बुरी तरह प्रभावित करता है. इसके पीछे के कई कारण हो सकते हैं, जिनमें वजह वर्क प्रेशर, परिवार, आर्थिक तंगी, नौकरी जाने की चिंता, जॉब अच्छी न मिलने की टेंशन शामिल हैं, बेहतर है कि आप स्ट्रेस, एंग्जायटी को कम करने की कोशिश करें. इसके लिए मेडिटेशन करें, इससे दिमाग को शांति मिलने के साथ ही आप ऊर्जा से भरपूर महसूस करेंगे.

himachalikhabar
the authorhimachalikhabar

Leave a Reply